भारतीय नौसेना दिवस प्रतिवर्ष 4 दिसंबर को मनाया जाता है, इसे 1971 मैं भारत पाकिस्तान युद्ध मैं भारतीय नौसेना की जीत के जश्न के रूप में मनाया जाता है,

दरअसल वर्ष 1971 में पाकिस्तानी सेना द्वारा हमारे हवाई और सीमावर्ती क्षेत्र में हमला किया गया, जिसके कारण ही 1971 के युद्ध की शुरुआत हुई,पाकिस्तान को उसकी नापाक हरकत का जवाब देने के लिए भारतीय नौसेना द्वारा ऑपरेशन ट्राइडेंट चलाया गया यह ऑपरेशन कराची स्थित पाकिस्तानी नौसेना के अड्डे को लक्ष्य बना करके किया गया था

कराची हार्वर फ्यूल स्टोरेज के तबाह हो जाने के कारण पाकिस्तानी नौसेना की कमर टूट गई थी, कराची में तेल के टैंकरों में लगी हुई आग को 60 किलोमीटर दूरी से भी देखा जा सकता था, यहां यह जानना जरूरी है कि पाकिस्तान द्वारा इस आंख पर 7 दिनों तक काबू नहीं पाया जा सका था।

भारतीय नौसेना के इसी‌ पराक्रम , और पाकिस्तान पर जीत के जश्न के रूप में भारतीय नौसेना दिवस प्रतिवर्ष 4 दिसंबर को मनाया जाता है।

भारतीय नौसेना भारतीय सेना का सामुद्रिक अंग है, जिसकी स्थापना 1612 में हुई थी, इसे रॉयल इंडियन नेवी नाम दिया गया, आजादी के बाद 1950 में नौसेना का पुनर्गठन हुआ और इसका नाम भारतीय नौसेना कर दिया गया।