पिथौरागढ़—घाट मोटर मार्ग पर गतिमान है आल वेदर रोड का निर्माण कार्य

पिथौरागढ़। अगर आप 10 अक्टूबर से 16 अक्टूबर के बीच घाट की ओर से pithoragarh जाने की सोच रहे है तो आपको सुबह 8 बजे तक गुरना मंदिर पहुंचना होगा। अगर 8 बजे के बाद पहुंचे तो फिर लंबे इंतजार के बाद ही पिथौरागढ़ शहर में एंट्री हो पायेगी।

त्यौहारों पर कोरोना की मार, केवल रावण के पुतले के साथ आयोजित होगा अल्मोड़ा का दश​हरा महोत्सव, नही होगें जगराते, पढ़े पूरी खबर

दरअसल इन दिनों राष्ट्रीय राजमार्ग 125 में घाट से पिथौरागढ़ तक ऑल वेदर रोड का निर्माण कार्य अंतिम चरण की ओर है, जो गुरना मंदिर के निकट किया जा रहा है। इस स्थान पर पहाड़ अत्यधिक ऊंचा होने के कारण पत्थर-मलबा गिरने का खतरा बना हुआ है।

इसके चलते आगामी 10 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक पिथौरागढ़-घाट राष्ट्रीय राजमार्ग सुबह 8.30 से अपराह्न 2.30 तक यातायात के लिए पूरी तरह बंद रहेगा। इसके चलते सुबह के समय पिथौरागढ़ से बाहर जाने वाले तथा pithoragarh आने वाले वाहनों को सुबह 8 बजे तक गुरना मंदिर क्राॅस करना पड़ेगा, ताकि वह मार्ग पूरी तरह बंद होने के समय तक संबंधित क्षेत्र से इधर या उधर हो जाएं।


सुरक्षा की दृष्टि से कार्यदाई संस्था राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिशासी अभियंता ने मार्ग में यातायात को एक निश्चित अवधि के लिए बन्द रखे जाने का अनुरोध pithoragarh
के जिलाधिकारी से किया था। इस संबंध में निर्देश जारी करते हुए पिथौरागढ़ के प्रभारी जिलाधिकारी आरडी पालीवाल ने कहा है कि सुरक्षा की दृष्टि से गुरना मंदिर के समीप पहाड़ कटिंग के दौरान आगामी 10 से 16 अक्टूबर तक उक्त निर्धारित अवधि के दौरान मार्ग पर यातायात व आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा।

इमरजेंसी पर पिथौरागढ़ -थल रोड रहेगा विकल्प

प्रभारी जिलाधिकारी ने लोगों से अपील की है कि इस मार्ग में आवागमन करने वाले व्यक्ति इस अवधि में सुबह 8 बजे तक गुरना मंदिर तक पंहुच जाएं, ताकि उन्हें आने-जाने में समस्या न हो। इस दौरान आवश्यक होने पर pithoragarh-थल मोटर मार्ग का प्रयोग किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि कार्यदाई संस्था अपराह्न 2.30 बजे से यातायात सुचारू रखने के लिए सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेगी।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें