उत्तरा न्यूज
अभी अभी

सेना को मिले 319 नये अफसर, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने ली आईएमस की पासिंग आउट परेड की सलामी

President Ram Nath Kovind took the salute of the IMS parade

शनिवार को भारतीय सैन्य अकादमी (IMA) की पासिंग आउट परेड (पीओपी) के साथ ही सेना को 319 युवा अफसर मिल गये। यह सभी बतौर लेफ्टिनेंट भारतीय सेना का हिस्सा बनेगें। गए। रिव्यूइंग अफसर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जेंटलमैन कैडेट्स की सलामी ली।

राज्य में तीन दिन का राजकीय शोक के कारण सादगी से आयोजित किया गया समारोह इस पासिंग आउट परेड में सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने भी शामिल होना था लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था और कुछ दिन पूर्व हुए एक हादसे में जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी सहित 13 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

उनके निधन के कारण परेड के समय ड्रिल स्क्वायर पर मार्चपास्ट, अवॉर्ड ड्रिस्ट्रीब्यूशन, पीपिंग और ओथ सेरेमनी की रस्म सादगी के साथ आयोजित की गयी। बताते चले कि सीडीएस के निधन के बाद उत्तराखंड सरकार ने तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया हैं।

nitin communication

387 कैडेट हुए पास आउट
शनिवार को आयोजित पासिंग आउट परेड में कुल 387 जेंटलमैन कैडेट्स पास आउट हुए। इनमें 68 युवा सैन्य अधिकारी नौ मित्र देशों के हैं। उत्तराखंड के 42 युवा भी इस पासिंग आउट परेड के बाद पास आउट हुए हैं। आईएमए की ऐतिहासिक चैटवुड बिल्डिंग के सामने ड्रिल स्क्वायर पर आयोजित पासिंग आउट परेड में रिव्यूइंग अफसर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने परेड का निरीक्षण कर पास जेंटलमैन कैडेट्स से सलामी ली।

परेड के बाद आयोजित होने वाली पीपिंग और ओथ सेरेमनी के बाद पास आउट बैच के 387 जेंटलमैन कैडेट बतौर लेफ्टिनेंट देश-विदेश की सेना में अपनी सेवायें देंगे। इनमें से 319 युवा सैन्य अधिकारी भारतीय थल सेना को मिले हैं। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने जेंटलमैन कैडेटों का उत्साहवर्धन करने के साथ ही उनके बेहतर भविष्य की कामन भी और देश की सुरक्षा के लिए संदेश भी दिया।

राज्यपाल ले.जनरल गुरमीत सिंह (सेनि),आइएमए के कमांडेंट ले.जनरल हरिंदर सिंह, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, डिप्टी कमांडेंट मेजर जनरल आलोक जोशी समेत कई वरिष्ठ सैन्य अधिकारी और कैडेट के परिजन भी इस मौके पर मौजूद रहे। कोरोना काल के बाद यह पहला मौका था जब कैडेटस के परिजन पहली बार पासिंग आउट परेड के मौके पर मौजूद रहे।

किस राज्य के कितने कैडेट

आज पासिंग आउट परेड में उत्तर प्रदेश के 45,उत्तराखंड के्र 43,हरियाणा के 34,बिहार के 26,राजस्थान के 23,पंजाब के 22,मध्य प्रदेश के 20,महाराष्ट्र के 20,हिमाचल प्रदेश के 13,जम्मू कश्मीर के 11,दिल्ली के 11,तमिलनाडु के 7,कर्नाटक के 6,केरल के 5,आंध्र प्रदेश के 5,चंडीगढ के 5,झारखंड के 4,पश्चिम बंगाल के 3,तेलंगाना के 3,मणिपुर के 2,गुजरात के 2,गोवा के 2,उड़ीसा के 2,असम के 2,मिजोरम के2,छत्तीसगढ़ के 2 और मिजोरम के 2 कैडेटस शामिल हैं।

आठ मित्र देशों के 68 युवा सैन्य अधिकारी भी हुए पास आउअ

पासिंग आउट में आठ मित्र देशों के 68 युवा सैन्य अधिकारी शामिल रहे। अफगानिस्तान के 40,भूटान के 15, तजाकिस्तान के 5 ,श्रीलंका के 2,नेपाल ,मालद्वीव ,म्यांमार,तंजानिया ,वियतनाम और तुर्किमेनिस्तान से 1—1 कैडेट पासिंग आउट सैरेमनी के बाद अपने अपने देश की सेना का अंब बनेगें।

वर्ष 1932 से अकादमी का सुनहरा सफर

Related posts

Almora- धर्म निरपेक्ष युवा मंच का उपवास जारी, कई संगठनों ने दिया समर्थन

Newsdesk Uttranews

उत्तराखण्ड में बढ़ा कोरोना का ग्राफ, आज 230 नये कोरोना (corona) पाजिटिव, आंकड़ा पहुंचा 9632

Newsdesk Uttranews

ब्रेकिंग न्यूज: हाईकोर्ट में बहस के दौरान अधिवक्ता को पड़ा दिल का दौरा, मौत

Newsdesk Uttranews
error: Content is protected !!