अल्मोड़ा से शुरू हुई गुरिल्ला संघ की जनजागरण रथ यात्रा पहुंची रूद्रप्रयाग, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और मुख्यमंत्री को भेजा गया ज्ञापन

editor1
2 Min Read

रूद्रप्रयाग। बीते 23 जून को अल्मोड़ा से शुरू हुई गुरिल्ला संघ की जनजागरण रथ यात्रा रूद्रप्रयाग पहुंची है। इस दौरान उत्तरकाशी से घनसाली, तिलवाड़ा से अगस्त्यमुनि मुनि पहुंचे संगठन के केन्द्रीय अध्यक्ष ब्रह्मा नन्द डालाकोटी ने अगस्त ऋषि की तपस्थली में आश्रम जाकर पूजा अर्चना की। उसके बाद रामलीला मैदान में उपस्थित गुरिल्लों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी गुरिल्लों को एकजुट होकर अपनी नौकरी पैंशन की मांगों के लिए प्रभावी दबाव बनाना होगा। उन्होंने कहा कि कई स्थानों में कुछ लोग अपने स्वार्थ के लिए गुरिल्लों को न केवल भटका रहे हैं बल्कि उनसे अत्यधिक पैसा भी मांग रहे हैं जिससे संगठन कमजोर हो रहा है।

बताया कि रथयात्रा के माध्यम से हम गुरिल्लों को सच्चाई से अवगत करा रहे हैं तथा बिखरे मोतियों को पुनः एक माला में पिरो रहे हैं। कहा कि स्थान स्थान पर नुक्कड़ सभाओं के माध्यम से 17 साल से चल रहे आंदोलन की पीड़ा जनता को भी बता रहे हैं, कि अपनी युवावस्था देश के नाम करने वाले गुरिल्लों की ये उपेक्षा क्यों सरकार कर रही है।

सभा में गढ़वाल मंडल प्रभारी लक्ष्मण रावत ने चुनावी वर्ष की महत्ता को बताते हुए सभी गुरिल्लों से पूरी ताकत से आंदोलन में भागीदारी का आह्वान किया तथा जनपद में कुछ लोगों द्वारा गुरिल्लों से की जा रही ठगी को रोकने हेतु ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की चेतावनी दी। सभा को दाता राम भट्ट ने भी संबोधित किया। जिलाध्यक्ष सुनीत चौधरी ने गुरिल्लों से किसी भी समस्या के लिए उनसे सीधे संपर्क का आह्वान किया। सभा में 9 अगस्त को अधिक से अधिक संख्या में देहरादून पहुंचने की अपील की गई।

सभा के बाद जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग के माध्यम से प्रधानमंत्री भारत सरकार, गृहमंत्री भारत सरकार, मुख्यमंत्री उत्तराखंड के नाम ज्ञापन प्रेषित किये गए। कार्यक्रम में सचिव आनन्द सिंह नेगी,ओम प्रकाश नौटियाल, अरविंद सिंह विनोद लाल जितेन्द्र,कमला देवी, कल्पेश्वरी,जीत सिंह सहित काफी संख्या में गुरिल्ले सम्मिलित हुए।

adbanner