उत्तरा न्यूज
अभी अभी कोरोना

आईआईटी के प्रोफेसर का दावा : आने वाली है Third Wave of corona

89 people found corona posotive in 3 jails of Delhi

देश में कोरोना का नया वैरिएंट की एंट्री के बाद से अब Third Wave of corona

के कयास फिर से लगाए जाने लगे हैं। ऐसी ही एक खबर आज भी सामने आई है, जिसमें आईआईटी के एक प्रोफेसर ने बताया है कि भारत में कोरोना की तीसरी लहर कब प्रवेश कर सकती है।

good News- अब हर PF Account holder को मिलेगा 50 हजार का एडिशनल बोनस, बस पूरी करनी होगी ये शर्तें


भारत में corona के नए varient omicron की एंट्री के बाद से ही Third Wave of corona की भविष्यवाणियां होने लगी है. ऐसी ही एक भविष्यवाणी आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर ने की है और बताया है कि भारत में जनवरी के महीने तक कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है।

Almora- स्वास्थ्य विभाग के एनएचएम कर्मचारी मंगलवार से रहेंगे हड़ताल पर


जनवरी की शुरुआत में आएगी Third Wave of corona


एक अखबार से की गयी बातचीत में IIT Kanpur के प्रोफेसर मनिंदर अग्रवाल ने दावा किया है, जनवरी 2022 की शुरुआत में कोरोना की तीसरी लहर india में आ सकती है। उनके द्वारा दक्षिण अफ्रीका और अन्य देशों में corona के आंकड़ों को स्टडी किया गया और उसके आधार पर ही ये दावा किया गया है।

nitin communication

Uttarakhand में बदलाव को सामाजिक ताकतों का एकट्ठा होना जरूरी


Third Wave of corona – फरवरी में रोज मिल सकते है डेढ़ लाख केस


प्रोफेसर अग्रवाल ने कहा कि भारत में फरवरी में कोरोना की तीसरी लहर अपने पीक पर होगी। उनके अनुसार इस दौरान डेढ़ लाख के करीब मामले प्रतिदिन आ सकते है.उन्हौने ये भी कहा कि omicron के मामले पहले ही आ चुके थे लेकिन ये धीरे धीरे फ़ैल रहा है और यह इसलिए हो रहा है, क्योंकि इस वक्त देश में 80 फ़ीसदी लोग कोरोनावायरस से पहले ही संक्रमित हो चुके हैं। उन्होने सरकार से सख्त लॉक डाउन से बचने की बात कही है।

Related posts

Champawat- मां पूर्णागिरि धाम में आने वाले श्रद्धालुओं को मिलेगी यह सुविधा

Newsdesk Uttranews

राम दूर वीर अंगद का पांव तक नहीं डिगा पाए, लंका के योद्धा, नंदादेवी में अंगद रावण संवाद के हर बोल पर बजी दर्शकों की ताली,कर्नाटक खोला में भी हुआ आकर्षक मंचन

Newsdesk Uttranews

उत्तराखंड में कोरोना (corona) का आंकड़ा हुआ 53 हजार पार, आज मिले 400 नये संक्रमित

Newsdesk Uttranews
error: Content is protected !!