News-web

उत्तराखंड में बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट जारी, केरल में तेजी से फैल रहा वायरस

केरल में बतखों में एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस पाया गया है। इसके बाद अब उत्तराखंड में बर्ड फ्लू की लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है।पशुपालन निदेशालय ने सभी के जिले के सभी पशु चिकित्सकों को बर्ड फ्लू की निगरानी के लिए निर्देश दिए हैं।

पक्षियों की बिना किसी वजह से मृत्यु होती है तो उनके सैंपल भोपाल स्थित हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज लैब भेजे जाएंगे। अगर वायरस की पुष्टि हुई तो संबंधित क्षेत्र के एक किलोमीटर की रेंज में मुर्गे-मुर्गियों को मार दिया जाएगा। ताकि यह वायरस अन्य पक्षियों में ना फैला सकें।।पशुपालन विभाग प्रदेशभर में स्थित जलाशयों में प्रवासी पक्षियों की भी निगरानी कर रहा है।

पशुपालन विभाग के मुताबिक प्रवासी पक्षियों के संपर्क में आने व उनकी बीट से भी अन्य पक्षियों में वायरस फैल जाता है। केरल राज्य के अलाप्पुझा जिले में बतखों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। जिसके वजह से अभी तक करीब तीन हजार से अधिक पक्षी मर चुके हैं। जिसको देखते हुए पशुपालन निदेशक डा. नीरज सिंघल ने प्रदेश भर में अलर्ट जारी किया है। यह एवियन इनफ्लूएंजा (एच5एन1) वायरस सभी तरह की पक्षी प्रजाति में फैल सकता है।

बर्ड फ्लू से बचने के लिए संक्रमित पक्षियों को संभालने वालों को दस्ताने पहनना चाहिए, साथ ही चेहरे में मास्क पहनना जरूरी है।बर्ड फ्लू को लेकर प्रदेशभर में सतर्कता बरती जा रही है। सभी मुख्य पशु चिकित्साधिकारियों व चिकित्सकों को बड़े फार्मों की निगरानी करने के निर्देश दे दिए गए हैं।