cloud

cloud bursting in tana of munshyari pithoragarh

ग्राम गैला में एक ही परिवार के तीन लोगों के शव सोमवार को कर लिए गए थे बरामद

पिथौरागढ़। मुनस्यारी विकासखंड के आपदा प्रभावित क्षेत्र टांगा मुुुनियाल में लापता 11 लोगों में से मंगलवार को 4 के शव बरामद कर लिए गए, जिनमें एक महिला और किशोर शामिल है। राहत एवं बचाव कार्य के दौरान मंगलवार सुबह तेज और उसके बाद दोपहर व शाम के समय हुई बारिश ने काफी बाधा पहुंचाई, जिसके शाम के समय खोजबीन का कार्य बंद कर दिया गया। वहीं क्षेत्रीय विधायक दूसरे दिन भी मौके पर जमे रहे जबकि जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने भी मंगलवार को घटनास्थल पर पहुंचकर हालत का जायजा और बचाव दलों को दिशानिर्देश दिये।

   उल्लेखनीय है कि बीती रविवार की आधी रात को मुनस्यारी विकासखंड में आने वाले बंगापानी तहसील के ग्राम गैला तथा टांगा मुनियाल आदि इलाकों में बादल फटने से भारी तबाही मच गई। इस दौरान ग्राम गैला में एक ही परिवार के तीन लोग मलबे में दफ्न हो गए जबकि पांच अन्य ग्रामीण घायल हो गए।

वहीं टांगा मुनियाल गांव में भारी बारिश के साथ पहाड़ी से आए मलबे के सैलाब से तीन घर जमीदोंज हो गए। जिसके बाद 11 ग्रामीणों का कुछ पता नहीं चल पाया जबकि एक व्यक्ति घायल हालत में मिला। इस घटना से इलाके में हाहाकार मच गया। मूसलाधार बारिश के बीच ग्रामीणों को एक दूसरे की सुध लेने में भी काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा।

बारिश थमने के बाद जब तड़के क्षेत्र के लोगों ने अपनों की ढूंढखोज शुरू की तो हर तरफ तबाही का मंजर था। ग्रामीणों के काफी प्रयासों के बाद लापता 11 लोगों का कुछ पता नहीं चला, जिसमें 4 महिलाएं भी शामिल थीं। वहीं देर से पहुंचे राहत बचाव दल ने शाम तक रेस्क्यू कार्य किया, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। उधर गैला गांव में पति-पत्नी व बेटी के शव सोमवार सुबह ही बरामद कर लिए गए जिनका मौके पर ही पोस्टमार्टम कराया गया और घायलों का बचाव दल व मेडिकल टीम ने उपचार करवाया।

   इधर टांगा मुनियाल में मंगलवार सुबह से एसडीआरएफ के 10, पुलिस व राजस्व विभाग के 20 जवान व कार्मिक तथा मेडिकल टीम के साथ ही स्थानीय जनता ने खोजबीन का कार्य शुरू किया। दोपहर तक लापता 2 लोगों के शव बरामद किए गए।  दोपहर बाद जिलाधिकारी डा.वीके जोगदंडे, पुलिस अधीक्षक प्रीति प्रियदर्शिनी भी टांगा मुनियाल पहुंचे और राहत बचाव कार्य का जायजा लिया, जबकि क्षेत्रीय विधायक हरीश धामी सोमवार दोपहर से ही मौके पर राहत बचाव कार्य में मदद कर ग्रामीणों को ढाढस बंधा रहे हैं। मंगलवार को प्रशासन द्वारा मौके पर खाद्य एवं आवश्यक सामग्री भी पंहुचाई गई। अपरान्ह दो बजे तक एनडीआरएफ के 23 और आईटीबीपी के 15 जवान भी राहत बचाव के लिए घटनास्थल पर पहुंच गए, जिसके बाद अपराह्न तीन बजे तक दो और लोगों के शव बरामद किए गए। मंगलवार को बरामद 4 शवों की शिनाख्त 70 वर्षीय माधव सिंह पुत्र चंद्र सिंह, 40 वर्षीय गणेश सिंह पुत्र माधव सिंह, 30 वर्षीया हीरा देवी पत्नी गणेश सिंह और 17 वर्षीय रोशन कुमार पुत्र जीत राम के रूप में की गई है।

 जिलाधिकारी राहत बचाव कार्य की निगरानी करते हुए आपदा प्रभावित अन्य इलाकों में भी राहत कार्यो में ढिलाई न बरतने के निर्देश दिये। इस बीच अपराह्न में डीडीहाट विधायक बिशन सिंह चुफाल ने भी टांगा मुनियाल पहुंच कर हालात का जायजा लिया और ग्रामीणों को ढाढस बंधाया। इस दौरान इलाके में फिर से तेज बारिश के कारण राहत-बचाव का काम रोकना पड़ा, जिसके बाद डीएम व एसपी बचाव दलों को दिशा निर्देश देकर टांगा मुनियाल से लौट आए। 

रोचक वीडियो देखें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw