Join WhatsApp

News-web

ऋषिकेश में गंगा नदी में डूबे युवक-युवती के शव पांच दिन बाद बरामद, परिजनों में मातम

Published on:

पौड़ी गढ़वाल जिले के लक्ष्मण झूला क्षेत्र में गंगा नदी में रविवार को डूबे नोएडा निवासी साहिल गुप्ता (25) और पीलीभीत निवासी नेहा (29) के शव पांच दिन बाद बरामद कर लिए गए हैं। इस घटना ने उनके परिवारों और दोस्तों को गहरे सदमे में डाल दिया है।

बता दें, आठ लोगों का एक ग्रुप दो दिन पहले ऋषिकेश घूमने आया था। रविवार को यह ग्रुप स्वर्गाश्रम क्षेत्र में मस्तराम घाट पर गंगा नदी में नहाने गया। नहाते समय गहराई का अंदाजा न होने के कारण साहिल और नेहा डूबने लगे। राफ्टिंग गाइड ने तुरंत बचाव कार्य शुरू किया और ग्रुप के छह लोगों को बचा लिया, लेकिन साहिल और नेहा लापता हो गए।

एसडीआरएफ की टीम ने पांच दिनों तक लगातार खोज और बचाव अभियान चलाया। आखिरकार, साहिल का शव पशुलोक बैराज से और नेहा का शव जानकी पुल परमार्थ घाट के पास से बरामद किया गया। परिजनों ने दोनों शवों की शिनाख्त की। साहिल एक छात्र था, जबकि नेहा एसबीआई में कार्यरत थी। दोनों के परिवारों में मातम पसरा हुआ है। एसडीआरएफ ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए एम्स ऋषिकेश भेज दिया है। पुलिस इस मामले में आगे की जाँच कर रही है।

यह घटना एक बार फिर नदी में नहाते समय सावधानी बरतने की आवश्यकता पर प्रकाश डालती है। विशेष रूप से पहाड़ी क्षेत्रों में नदियों का बहाव तेज होता है और गहराई का अंदाजा लगाना मुश्किल होता है। इसलिए, नदी में नहाते समय स्थानीय लोगों की सलाह का पालन करना और सुरक्षा उपकरणों का उपयोग करना आवश्यक है।