News-web

किस भाषा का शब्द है रोटी? कहां से हुई इसकी उत्पत्ति, जानिए

भारत के हर घर में खाने में अधिकांश भारतीयों के यहां गेंहू के आटा की रोटी बनती है। लेकिन क्या आपको पता है कि रोटी किस भाषा का शब्द है? इस शब्द की उत्पत्ति कहां से हुई है। यहां आज हम आपको बताते है कि रोटी शब्द किस भाषा का शब्द है। तो आइए जानते है।

रोटी – हर घर में लंच और डिनर के वक्त रोटी जरूर बनाई जाती है। बता दें कि रोटी शब्द मूल रूप से संस्कृत भाषा का शब्द है। संस्कृत शब्द के रोटिका से रोटी बना है और दुनियाभर में प्रचलित हुआ है। कुछ लोग इसे फारसी शब्द भी बताते हैं, लेकिन ज्यादातर मान्यता यही है कि रोटी संस्कृत के रोटिका शब्द से आई है।

चपाती – रोटी के लिए कई लोग चपाती शब्द का भी उपयोग करते है। यह शब्द भी संस्कृत के ही शब्द चर्पट से बना है। चर्पट का मतलब चांटा, चपेट या थप्पड़ होता है। चर्पट से बना चर्पटी और फिर ये चपाती के तौर पर सामने आया है। संस्कृत से यह शब्द फारसी में गया और चपात कहा गया है फिर चपात से चपाती शब्द बना है। बता दें कि चपाती उसे कहा जाता है, जिसमें आटा ज़रा गीला लगाया जाता है। इसके बाद इसे हाथ से ही बढ़ाते हैं।

रोटी और चपाती में अंतर : बता दें कि रोटी का आटा सख्त होता है और इसे बेलकर गोल आकार में बनाया जाता है। जिसके बाद इसे तवे पर सेंका जाता है। वहीं फुलका का आटा रोटी से हल्का होता है और इसे तवे पर फुलाया जाता है। कई लोगों को हल्की फुलके वाली रोटी पसंद होती है।