shishu-mandir

Almora: ज्योली इंटर कॉलेज में चल रहा है स्काउट गाइड शिविर

editor1
2 Min Read
Screenshot-5

new-modern
gyan-vigyan

Almora: Scout guide camp (स्काउट गाइड शिविर) is going on in Jeyoli Inter College, 94 campers are participating

शिविराथियों को द्वितीय दिवस में स्काउट-गाइड आन्दोलन का ज्ञान, सिद्धान्त एवम् चिह्न, सैल्यूट, वायाँ हाथ मिलाना, नियम व प्रतिज्ञा, विभिन्न प्रकार के ध्वज, प्राथमिक चिकित्सा, विभिन्न प्रकार की पट्टियों का ज्ञान, स्ट्रेचर निर्माण, आपदा प्रबंधन, प्रथम, द्वितीय व तृतीय सोपान की गाँठों आदि का प्रशिक्षण दिया गया।

अल्मोड़ा, पंडित गोवर्धन शर्मा इण्टर कालेज ज्योति (ज्योली), अल्मोड़ा में उत्तराखण्ड भारत स्काउट एवम् गाइड का पाँच दिवसीय तृतीय सोपान शिविर जारी है।

शिविर का द्वितीय दिवस जीपी 6 और ध्वज शिष्टाचार के साथ प्रारम्भ हुआ। शिविर संयोजक व प्रधानाचार्य गणेश सिंह रावतने शिविरार्थियों से पूर्ण मनोयोग तथा अनुशासन के साथ शिविर की गतिविधियों में प्रतिभाग करने को कहा और सीखी गयी बातों को अपने जीवन कौशल को बढ़ाने हेतु उपयोग करने का आह्नान किया।

शिविराथियों को द्वितीय दिवस में स्काउट-गाइड आन्दोलन का ज्ञान, सिद्धान्त एवम् चिह्न, सैल्यूट, वायाँ हाथ मिलाना, नियम व प्रतिज्ञा, विभिन्न प्रकार के ध्वज, प्राथमिक चिकित्सा, विभिन्न प्रकार की पट्टियों का ज्ञान, स्ट्रेचर निर्माण, आपदा प्रबंधन, प्रथम, द्वितीय व तृतीय सोपान की गाँठों आदि का प्रशिक्षण दिया गया।

प्रथम दिवस की रात्रि में शिविर में कॅम्प फायर का भी आयोजन किया गया जिसमें शिविराधियों द्वारा विभिन्न रंगा-रंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये, कैम्प फायर के मुख्य अतिथि इ. का० ज्योली के वरिष्ठ शिक्षक अशोक कुमार पंत थे।

इस पाँच दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में जिला संगठन आयुक्त स्काउट दिगम्बर दत्त फुलोरिया, सहायक जिला कमीश्नर पूरन सिंह अल्मियाँ, जिला सचिव मोहन चन्द्र भट्ट, एलओसी राजेन्द्र सिंह खडायत, शेर राम टम्टा, ब्लाक उप सचिव चौखुटिया गायत्री बिष्ट, प्रशिक्षकों की भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।

शिविर संचालन विनोद पाण्डे, विक्रम बिष्ट, सुनीता मिश्रा, ऊषा पाल, ज्योति खर्कवाल, किरन पाण्डे, जीवन बिष्ट व विद्यालय का सम्पूर्ण स्टाफ शिविर के सफल संचालन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। राजेन्द्र सिंह खड़ायत ने बताया कि शिविर में 50 स्काउट और 44 गाइड भाग ले रहे हैं।