उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड

बड़ी खबर- जोशीमठ के बाद बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग भी आया भू-धंसाव की चपेट में

Uttarakhand Public Service Commission is making new question bank

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

जोशीमठ। जोशीमठ में हुए भू-धंसाव का दायरा अब बढ़ता हुआ दिख रहा है। जानकारी के अनुसार जोशीमठ के बाद बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग भी अब भू-धंसाव की चपेट में आ रहा है। बदरीनाथ धाम की तरफ जाने वाले इस एकमात्र मार्ग के कई हिस्सों में एक से दो मीटर तक दरारें साफ दिख रही हैं।


सरकार फिलहाल मार्ग के ट्रीटमेंट
की बात कह रही है, लेकिन 2023 में यात्रा शुरू होने से पहले मार्ग को सुचारू रखना सरकार के लिए बड़ी चुनौती होगी। हाईवे पर आईं बड़ी-बड़ी दरारें सरकार की चिंता का बड़ा कारण बन गई हैं। यदि दरारें नहीं थमीं तो हाईवे का एक बड़ा हिस्सा कभी भी जमींदोज हो सकता है।


ऐसे हालात में बदरीनाथ धाम ही नहीं भारतीय सेना को चीन की सीमा के पास अपनी चौकियों में आने जाने में दिक्कते होंगी।। बताते चलें कि सीमांत जिले चमोली के जोशीमठ से बदरीनाथ की दूरी करीब 46 किमी है। बदरीनाथ से आगे का रास्ता चीन सीमा की ओर जाता है। यहां चारधाम ऑल वेदर रोड परियोजना के तहत हेलंग से जोशीमठ बाईपास का निर्माण किया जा रहा था, लेकिन भू-धंसाव के बाद इसके निर्माण पर भी रोक लगा दी गई है।

Related posts

​जब अल्मोड़ा जिला पंचायत के शपथ ग्रहण समारोह से नाराज हो कर चले गए डिप्टी स्पीकर पढ़े पूरी खबर

Newsdesk Uttranews

पानी(Water) की दिक्कत— यहां बैलों के गले में घुंघरू नहीं, बंधे होते हैं पानी के बर्तन, वायरल वीडियो खोल रहा है जल महकमे की पोल

Newsdesk Uttranews

Bhikiyasain में सीएचसी के निर्माण के 30 वर्ष बाद पहली बार हुआ सिजेरियन ऑपरेशन

Newsdesk Uttranews