दिनेश पाण्डे के निधन पर विभिन्न संगठनों ने जताया शोक

Newsdesk Uttranews
2 Min Read

अल्मोड़ा छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआईएम नेता दिनेश पांडे के निधन पर विभिन्न संगठनों ने गहरा शोक व्यक्त किया है।


उत्तराखंड लोक वाहिनी ने एक शोक सभा कर दिनेश पांडे के आजीवन संघर्ष को याद किया। शोक सभा के अन्त में दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना करते हुए शोक संतृप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवेदनाये व्यक्त की गई। बैठक में वक्ताओं ने दिनेश पाण्डे के निधन को समाज के लिए एक अपूरणीय क्षति बताया। वक्ताओं ने कहा कि दिनेश पांडे आजीवन लोगों की समस्याओं के लिए संघर्षरत रहे,अल्पायु में ही हृदयाघात से उनकी मृत्यु हो गयी।


वक्ताओं ने कहा कि दिनेश पाण्डे ने छात्र राजनीति से अपना सामाजिक जीवन शुरू किया था। वह 1990 में कुमाऊं विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्य़क्ष निर्वाचित चुने गए। इसके बाद से वह आजीवन जन संघर्षो की राजनीति करते रहे। वर्तमान मे वह सीपीआई(एम) के नेता के रूप मे भोजन माता,आशा कार्यकत्रियो की लड़ाई लड़ रहे थे ।

शोक सभा में पूरन चन्द्र तिवाडी,एडवोकेट जगत रौतेला, दयाकृष्ण काण्डपाल,जंगबहादुर थापा,अजयमित्र बिष्ट , अजय मेहता,हारिस मोहम्मद,शमशेर जंग गुरूंग,बिशन दत्त जोशी आदि लोग मौजूद रहे।


श्रमजीवी पत्रकार यूनियन ने भी दिनेश पाण्डे के निधन पर शोक जताया है।यूनियन के अध्यक्ष सुरेश तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित हुई बैठक में पत्रकारिता में सक्रिय दिऩेश पाण्ड़े की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया गया।

बैठक में यूनियन के महासचिव दयाकृष्ण काण्डपाल,हरीश भण्ड़ारी,अशोक पाण्ड़े,निर्मल उप्रेती,अमित उप्रेती,सोनू सिजवाली,दिनेश भट्ट,गोपेश उप्रेती,उदय किरौला,प्रकाश भट्ट मौजूद रहे। दन्या मे भी श्रमजीवी पत्रकार यूनियन व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने दिनेश पाण्ड़े के निधन पर दुख जताया। शोक जताने वालों में वालो में पत्रकार शंकर भट्ट,खजान पाण्डे,जमुना दत्त,शिव दत्त पाण्डे, शंकर सिंह अधिकारी,बसन्त पाण्डे आदि शामिल है।

Sticky AdSense Example

Sticky AdSense Example

Content goes here. Scroll down to see the sticky ad in action.

More content...