उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड

Uttarakhand- उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा, लगाए आरोप

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

देहरादून। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा आयोजित स्नातक स्तरीय भर्ती पेपर लीक प्रकरण पर पुलिस रोज नए खुलासे कर रही है। इसी बीच शुक्रवार को उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने भर्तियों में सियासी दबाव और माफिया का दखल होने की बात स्वीकार करते हुए कहा कि वह नैतिक जिम्मेदारी के आधार पर इस्तीफा दे रहे है। बताते चलें कि वह 2016 से चेयरमैन के पद पर तैनात थे और सितंबर में उनका कार्यकाल समाप्त होने वाला था।

एस राजू ने कहा कि स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा के बाद उन्हें कुछ शिकायतें मिली थी जिसके चलते उन्होंने खुद आयोग के रिकॉर्ड से जांच कर मैरिट में शामिल 88 संदिग्ध नाम पुलिस को दिए। कहा कि आज इसी आधार पर धरपकड़ हो रही है परन्तु इसमें अब तक आयोग के किसी अधिकारी या कर्मचारी की संलिप्तता सामने नहीं आई है। फिर भी परीक्षा में सेंधमारी तो साबित हुई ही है। इससे परीक्षार्थियों का नुकसान हुआ है। इसलिए वे नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दे रहे हैं। कहा कि सियासी लोग नियुक्ति को लेकर दबाव तो बनाते ही थे, लेकिन उन्होंने कभी गलत काम नहीं किया।

उन्होंने पुलिस की जांच पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने पूर्व में तीन प्रकरणों की जांच पुलिस को सौंपी थी लेकिन किसी में भी ठोस कार्रवाई नहीं की गई। पूर्व में वीपीडीओ भर्ती में उनकी जांच में ओएमआर शीट में छेड़छाड़ की बात पुष्टि हुई थी, लेकिन विजिलेंस पांच साल से इस को अंजाम तक नहीं पहुंचा पाई है। कहा कि फॉरेस्टगार्ड भर्ती में पुलिस ने आयोग को पार्टी बनाया ही नहीं अन्य किसी भी मामले में कोर्ट ने आयोग पर कोई प्रतिकूल टिप्पणी नहीं की है। राजू ने वर्तमान प्रकरण में भी सरकार के स्तर से पूरा समर्थन नहीं मिलने की भी बात कही।

Related posts

accident— पेड़ से टकराई कार, 3 युवकों की मौत 2 घायल

Newsdesk Uttranews

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सरकार से की राष्ट्रीय युवा नीति में बदलाव की मांग, दिए गए सुझाव

Newsdesk Uttranews

दिल्ली दंगों (delhi riots) में मारे गए उत्तराखंड के दलवीर नेगी के परिवार को दिल्ली सरकार ने दी 10 लाख की मदद