River Rejuvenation Project

Pithoragarh – River Rejuvenation Project Important Work: Dr. Sinha

पिथौरागढ़ सहयोग, 27 नवंबर 2020
जिला मुख्यालय में बहने वाली यक्षवती नदी यानि रई गाड़ के पुनर्जीवन के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। परियोजना (River Rejuvenation Project)
शीघ्र ही मूर्त रूप लेगी जिसके लिए रई क्षेत्र में कवायद जारी है।

जनपद भ्रमण पर पहुंचे जिले के प्रभारी सचिव डॉ. रंजीत कुमार सिन्हा ने आज रई जलागम क्षेत्र, मड़ खड़ायत का अधिकारियों के साथ स्थलीय निरीक्षण किया।

इस दौरान प्रभारी सचिव डाॅ. सिन्हा ने कहा कि नदी पुनर्जीवन परियोजना (River Rejuvenation Project) एक महत्वपूर्ण कार्य है। इसे समय पर सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए वन विभाग अन्य रेखीय विभागों के साथ मिलकर एक बेहतर प्लान तैयार करें। इसके क्रियान्वयन के लिए प्रभारी सचिव ने अपर जिलाधिकारी को नोडल अधिकारी नामित किया।

निरीक्षण के दौरान प्रभारी सचिव ने जिलाधिकारी डाॅ. वीके जोगदंडे को निर्देश दिए कि वह समय-समय पर इस परियोजना (River Rejuvenation Project) कार्य की प्रगति की समीक्षा करें। उन्होंने कहा कि सर्वप्रथम ऊपरी भू—भाग में जल संरक्षण व संवर्द्धन आदि के कार्य स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से कराए जाए।

ब्रेकिंग- बारात का वाहन दुर्घटनाग्रस्त(vehicle crash), एक की मौत 8 लोग घायल

जिलाधिकारी डाॅ. जोगदंडे ने बताया कि क्षेत्र का सीमांकन करने के बाद ड्रोन कैमरे से नक्शा तैयार किया जा रहा है। इस क्षेत्र में विभिन्न नाले-गधेरों का संरक्षण और अन्य क्षेत्रों में पौंधारोपण किया गया है, इसके लिए संबंधित विभागों को लक्ष्य देकर जिम्मेदारी तय की गई है।

इस दौरान एडीएम आरडी पालीवाल, एसडीएम तुषार सैनी, उप प्रभागीय वनाधिकारी नवीन चंद्र पंत, ईओ नगरपालिका मनोज दास आदि मौजूद थे।

अपडेट खबरों के लिए हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें