shishu-mandir

Haldwani News: हल्द्वानी हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक खुद को बता रहा है निर्दोष, कर रहा है यह मांग

Smriti Nigam
4 Min Read
Screenshot-5

Uttarakhand News: हल्द्वानी हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक गिरफ्तार हो गया है जिसके बाद उसका एक पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है,जिसमें वह खुद को निर्दोष बता रहा है और उसने कहा कि उसे  फंसाया जा रहा है।

Haldwani News: हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक ने एक और दांव खेला है। अब्दुल मलिक ने एक पत्र पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार को लिखा जिसमें उसने कहा कि उसके खिलाफ षड्यंत्र रचा जा रहा है और उसे फंसाया जा रहा है जिसमें उसने यह भी कहा कि हल्द्वानी में हुई हिंसा में उसका कोई हाथ नहीं है और वह बेकसूर है। जिस दिन हल्द्वानी में हिंसा हुई उस दिन अब्दुल मलिक दिल्ली और हरियाणा में था। अब्दुल मलिक ने अपने वकील के जरिए यह दावा किया है कि उसे दिन भाजपा नेता से भी वह मिला था। 7 और 8 फरवरी को वो दिल्ली और हरियाणा में था लेकिन डीजीपी अभिनव कुमार ने ऐसे किसी भी खत के मिलने से साफ इंकार किया है।

new-modern
holy-ange-school

हल्द्वानी हिंसा का आरोपी अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी के बाद उसका एक पत्र वायरल हो रहा है जिसमें उसने बताया कि 7 फरवरी को अब्दुल मलिक अपने ड्राइवर जहीर अहमद के साथ तीन घंटे तक नोएडा के सेक्टर 18 में स्थित एक फाइव स्टार होटल के रेस्टोरेंट में था। शाम 5:00 बजे पीलीभीत निवासी अपने अधिवक्ता सुधीर तिवारी को अब्दुल मलिक ने वहां बुलाया फिर दोनों सेक्टर 31 में उच्चतम न्यायालय के अधिवक्ता विशाल बख्शी के घर पहुंचे थे।

gyan-vigyan

वायरल पत्र के अनुसार शाम 7:30 बजे अब्दुल मलिक ने सुधीर तिवारी के साथ सेक्टर 18 के एक रेस्टोरेंट में खाना खाकर अब्दुल मलिक रात में अपने ड्राइवर के साथ दिल्ली के ही एक होटल में रुका। इस वायरल पत्र के अनुसार 8 फरवरी को दोपहर करीब 12:30 बजे सुधीर तिवारी अपनी बेटी की शादी का निमंत्रण कार्ड देने के लिए सेक्टर 17 में नोएडा में भाजपा के पूर्व राज्यसभा सांसद बलबीर पुंज के आवास पर गए थे। इस दौरान अब्दुल मलिक भी उनके साथ था। बलबीर पुंज ने उन्हें अयोध्या पर लिखी किताब भी दी थी।

इसके बाद दोनों नई दिल्ली में कांग्रेस के पूर्व सांसद तारीख अनवर के आवास पर गए और शाम तीन बजे पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ संजय सिंह के घर भी कार्ड देने गए थे। पत्र के अनुसार मलिक ने नोएडा के फाइव स्टार होटल में रात में खाना खाया और सुधीर तिवारी को लेकर ग्रेटर नोएडा गए। वहां आधा घंटा रुकने के बाद वह फरीदाबाद में अपनी बेटी के आवास पर चला गया।

पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार ने इस बात से साफ इनकार किया कि उनका कोई ऐसा पत्र मिला है। फिलहाल सोशल मीडिया के वायरल हो रहे इस पत्र ने अब खूब सुर्खियां बटोरी है। इस पत्र में कितनी सच्चाई है यह तो पुलिस जांच के बाद ही पता चलेगी लेकिन इस पत्र के बाहर आने के बाद मलिक की राजनीतिक पहचान जरूर सामने आती दिख रही है।