shishu-mandir

जन शिकायतों पर डीएम ने लिया संज्ञान

editor1
3 Min Read
Screenshot-5

 

new-modern
gyan-vigyan

कुल सात शिकायतें आई सामने, डीएम ने कहा जल्दी हो समाधान

saraswati-bal-vidya-niketan

अधिकारियों को दिए बैठक में समय पर आने के निर्देश

चम्पावत।सोमवार को जिला कार्यालय सभागार में प्राप्त शिकायत पर सुनवाई करते हुए जिलाधिकारी एसएन पाण्डे ने कहा कि समस्या के समाधान से लोगों को राहत मिलने के साथ शिकायतकर्ता को बार.बार मुख्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। और उसके धन तथा समय की बचत होगी। जन सुनवाई दिवस पर 7 शिकायतें प्राप्त हुई अधिकतर समस्याओं का समाधान जनसुनवाई में ही किया गया।
जनसुनवाई के दौरान जिलाधिकारी ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को बैठकों में समय से आने की आदत एवम समय से उपस्थित होने के निर्देश दिए,तथा अधिकारियों द्वारा निर्देशों का पालन न करने पर उनके खिलाफ दण्डात्मक कार्यवाही की बात कही।
जन सुनवाई में ग्राम गजीना की आशा देवी के द्वारा गांव में बने सार्वजनिक शौचालय के भुगतान करने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने नियमानुसार कार्यवाही करने, मडलक के प्रीतम सिंह द्वारा मडलक मोटर मार्ग को आमजन के लिये चलने लायक के लिये अधिशासी अभिंयता ए0डी0बी0 को निर्देश देने, कमैला (काडां) के बंशीधर पाण्डेय   द्वारा लम्बे समय से आय प्रमाण पत्र ना बनाने व क्षेत्र में ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के ना रहने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने गम्भीरता से लेते हुये डी0पी0ओ0 को काडां क्षेत्र की ग्रा0पं0 वि0 अधिकारी को निलम्बित करने के निर्देश दिये, राकेश राम द्वारा राशन कार्ड बनाने के प्रार्थना पत्र पर जिलाधिकारी ने मौके पर ही जिला पूर्ति अधिकारी को नियमानुसार राशनकार्ड बनाने के साथ ही उज्जवला योजना के तहत गैस कनैक्शन दिये जाने के निर्देश दिये। दिनेश नाथ गोस्वामी द्वारा राजकीय महाविद्यालय लोहाघाट में अपनी पुत्री के साथ विद्यालय की शिक्षिका द्वारा अभद्रता किये जाने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने जांच कराकर आवश्यक कार्यवाही का भरोसा दिलाया। तथा कानाकोट के जगदीश सिंह द्वारा पुत्र के ईलाज हेतु आर्थिक सहायता दिलाये जाने पर जिलाधिकारी ने उपस्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पात्रता के आधार पर रेडक्रास से धनराशि अवमुक्त करने और उनकी चिकित्सा हेतु उचित सलाह प्रदान करने के निर्देश दिये ।