News-web

ठगी के नये—नये तरीके अपना रहे ठग,खाते में फर्जी रकम का मैसेज भेज दिया और फिर यह हुआ

Published on:

Fraudsters are adopting new methods of cheating, sent a message of fake amount to the account and then this happened

पिथौरागढ़। हाईटेक होती दुनिया में ठग भी नये—नये तरीके अपना कर लोगों को ठग रहे है। ताजा मामला पिथौरागढ़ का है यहां ठग ने परिचित व्यक्ति का नाम लेकर 1.30 लाख की ठगी कर डाली।


विगत 30 मार्च को उम्मेद सिंह, निवासी कुमौड़ खेत, पिथौरागढ़ कोतवाली पिथौरागढ़ में एक तहरीर दी। बताया कि 22 मार्च 2023 को उन्हें किसी अज्ञात फोन नम्बर से कॉल आई, जिसमें उनके पलटन के आदमी का नाम बताकर किसी को पैसे भेजने की बात कही गई, जो कि अस्पताल में मौत से जूझ रहा है और उसे पैसों की शख्त जरूरत है। साथ ही कहा कि उसके खाते में पैसे ट्रान्सफर नहीं हो पा रहे हैं, इसलिये आपके यानि शिकायतकर्ता के खाते में पैसे भेज रहा हूं। इसके बाद शिकायतकर्ता के खाते में पैसे आने का फर्जी मैसेज आया।


फिर काल करने वाले ने उसे एक एकाउन्ट नम्बर दिया जिसमें पैसे ट्रान्सफर करने को कहा। इस पर शिकायतकर्ता ने बिना अपना एकाउन्ट बैलेन्स देखे, दिये गये खाते में 1 लाख 30 हजार रुपये भेज दिये। इसके बाद जब उसने अपना एकाउन्ट बैलेन्स देखा तो कोई पैसे नहीं आये थे। तब उसे अहसास हुआ कि वह ठगी का शिकार हो गया।


तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया किया। मामले की विवेचना अभियोग कर रहे प्रभारी निरीक्षक हिमांशु पन्त के नेतृत्व में अभियुक्त की गिरफ्तारी को जांच शुरू हुई। जिसमें प्रकाश में आये अभियुक्त राकेश सैनी को पूर्व में जयपुर, राजस्थान से हिरासत में लेकर नोटिस तामील कराया था। अभियुक्त के कब्जे से घटना में प्रयुक्त मोबाइल फोन भी बरामद किया गया।


इस मामले में प्रकाश में आये एक और अभियुक्त सुनील चौधरी पुत्र तेजपाल चौधरी निवासी मीणा की ढाणी, जालसू थाना कालाडेरा जयपुर, राजस्थान को दबोचने के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही थी, लेकिन वह बार बार अपने ठिकाने बदल रहा था। आखिरकार पुलिस टीम ने बीते 9 दिसंबर को अभियुक्त सुनील चौधरी को उसके घर पर दबिश देकर दबोच लिया और उसे सीआरपीसी का नोटिस तामील कराया।