Accident – Happiness turned into mourning here Pick up crushes dancing daras

हल्द्वानी, 01 दिसंबर 2020- हल्द्वानी में सोमवार की रात एक दर्दनाक हादसा (Accident)सामने आया है|

यहां बारात में डांस कर रहे बाराातियों पर एक वाहन काल बन कर टूट पड़ा| तेज रफ्तार पिकप वाहन ने डांस कर रहे बारातियों को कुचल दिया, जिसमें एक की मौत हो गई जबकि 9 लोग घायल हो गये| 7 गंभीर घायलों का उपचार चल रहा है| जिसमें एक को रेफर कर दिया गया है|Accident

घटना के बाद पूरे विवाह समारोह में मातम पसर गया| जानकारी के अनुसार गन्ना सेंटर निवासी युवक की बारात में मेरठ में रहने वाले दोस्त भी आए थे| यह सभी बारात में डांस कर रहे थे कि अचानक तेज रफ्तार पिकप ने उन्हें कुचल दिया|(Accident)

लोगों का कहना है कि बारातियों ने गाड़ी से उतरकर अभी डांस करना शुरू किया ही था कि आंधी की तरह पिकअप गाड़ी आई और चालक ने बेरहमी से बरातियों को रौंद दिया। दूल्हे के परिवार के लोग शादी देखने की जगह एसटीएच में घायलों का इलाज करा रहे थे। जहां कुछ देर बाद आर्यन नाम के युवक ने दम तोड़ दिया|

Accident के बाद पसरा सन्नाटा सादगी से हुई विवाह की रस्में

हादसे के बाद अधिकांश बराती घायलों का उपचार कराने के लिए अस्पताल की ओर दौड़ गए। चुनिंदा लोंगो के साथ बरात सादगी से बैंक्वेट हाल पहुंची। इसके बाद शादी की रस्में पूरी की गई। अस्पताल के चिकित्सकों ने घायल आर्यन को कुछ देर बाद मृत घोषित कर दिया था।

दोस्त के रिश्तेदार की शादी में शामिल होने मेरठ से पहुंचा था आर्यन


मिली जानकारी के मुताबिक दूल्हे की विवाहित बड़ी बहन का परिवार सालों से मेरठ में रहता है। बहन के नजदीकी लोंगो के साथ ही भांजे कार्तिक के दोस्त भी बरात में शामिल होने हल्द्वानी आए हुए थे। मृतक आर्यन के साथ ही घायल बॉबी भी भांजे के दोस्त बताए जा रहे हैं

Accident ने खोली पुलिस की तत्परता की पोल

सोमवार रात हुए हादसे ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करने के साथ ही विभाग के उच्च अधिकारियो से मिलने वाले आदेशों और बैठकों में होने वाले निर्णयों की भी पोल खोली है।
लोगों का कहना है कि यहां हादसे के घंटो बाद तक अफसर तो दूर चौकी इंचार्ज तक न तो मौके पर आए और न ही घटना स्थल का मुआयना किया गया। केवल ट्रांसपोर्ट नगर चौकी के एक दरोगा और चीता मोबाइल के दो सिपाहियों को भेजकर दायित्व की इतिश्री अफसरों ने कर दी।


यही नहीं हादसे (Accident)के तुरंत बाद ही लोंगो ने पुलिस को पिकअप के लोगों को कुचल कर भागने की जानकारी दे दी थी। पुलिस का दावा है कि सूचना के तुरंत बाद ही बेलबाबा समेत सभी बैरियर पर नाकाबंदी शुरू कर दी गई। वहीं, गन्ना सेंटर में चौकी खुलने के बाद पुलिस के काफी विलंब से पहुंचने और देर रात तक पिकअप को ढूंढकर चालक को गिरफ्तार नहीं करने पर भी सवाल उठ रहे हैं।

अस्पताल में भी मच गई चीख पुकार

हादसे के बाद लोग घायलों को उठाकर सुशीला तिवाड़ी अस्पताल लेकर आये। यहां उपचार के दौरान मेरठ के संजय नगर निवासी आर्यन(25) ने कुछ ही देर बाद दम तोड़ दिया। जबकि गंभीर रूप से घायल अंश(22) निवासी मेरठ को एसटीएच से रेफर करा दिया गया है|

अन्य घायल लवली, दूल्हे का चाचा अमित उप्रेती,दूल्हे की बहन हेमा जोशी, भांजी सोमी निवासी मेरठ, बॉबी(22) निवासी मेरठ का सुशीला तिवाड़ी अस्पताल में उपचार चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक मृतक आर्यन ने एक साल पहले बीएमएस की पढ़ाई पूरी की थी। अब वह मास्टर डिग्री के लिए मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने की तैयारी कर रहा था।

इसे भी पढ़ें

दिवस विशेष:- इतिहास के आयने में 1 दिसंबर

इधर पुलिस का कहना है कि पिकअप और चालक की तलाश शुरू कर दी गई है। पीड़ित पक्ष की ओर से तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। मृतक के मेरठ में रहने वाले परिजनों को सूचित कर दिया है उनके आने पर पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौपा जाएगा।

ताजा वीडियो अपडेट के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw

इसे भी पढ़ें

एक नज़र में करंट अफेयर्स (current affairs) :- 1 दिसंबर