shishu-mandir

चीन के प्रति अमेरिका की समझ में गलतियां और तथ्य नामक एक रिपोर्ट जारी

Newsdesk Uttranews
2 Min Read
Screenshot-5

चीन के प्रति अमेरिका की समझ में गलतियां और तथ्यबीजिंग, 21 जून (आईएएनएस)। हाल में अमेरिकी विदेश मंत्री एंथनी ब्लिंकन ने एशिया संघ में चीन के खिलाफ नीतिगत भाषण देते समय चीन से खतरा होने की दलील का प्रसार किया, चीन के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप किया और चीन की देश-विदेश नीति को बदनाम किया। लेकिन अमेरिका ने चाहे क्या किया, तो उसकी चीन पर अंकुश लगाने और चीन पर दबाव डालने की साजिश को नहीं छिपाया जा सकता है। चीनी विदेश मंत्रालय ने 19 जून की रात को चीन के प्रति अमेरिका की समझ में गलतियां और तथ्य नामक एक रिपोर्ट जारी की, जिसमें तथ्यों और आंकड़ों से चीन के खिलाफ अमेरिका की नीति का पाखंड और नुकसान बताया गया।

new-modern
holy-ange-school

कौन अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था को तोड़ता है? कौन धमकी देने वाले राजनयिक कार्रवाइयों में संलग्न रहता है? कौन मानवाधिकार का उल्लंघन करता है? कौन विश्व की टैपिंग करता है? इस रिपोर्ट में चीन के खिलाफ अमेरिकी नीति की 21 गलतियां जताई गयीं। लोग साफ-साफ देख सकते हैं कि विश्व व्यवस्था में गड़बड़ी होने का स्रोत, धमकी देने वाली कूटनीति का आविष्कारक और विश्व का सबसे बड़ा हैकर साम्राज्य अमेरिका ही है।

gyan-vigyan

हालांकि अमेरिका ने खुद को अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था और सुरक्षा विकास की रक्षा करने की बात कही, फिर भी उसकी कार्रवाइयां उलट दिशा में हैं। वास्तव में अमेरिका ने बल राजनीति का प्रयोग कर व्यापक स्वीकार्य अंतर्राष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन किया है।

(साभार — चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

एएनएम

Source link