बार-बार न बदलें पार्टियां, यह लोकतंत्र के लिए है नुकसानदायक : वेंकैया नायडू

editor1
1 Min Read

मुंबई। पूर्व उपराष्ट्रपति और भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता रहे वेंकैया नायडू ने युवा राजनेताओं को सलाह देते हुए कहा कि, नवोदित नेता बार-बार पार्टी बदलते की विचारधारा को छोड़ें और विचारधारा पर कायम रहें। यह लोकतंत्र के लिए भी नुकसानदायक है। यह बात उन्होंने एमआईटी स्कूल ऑफ गवर्नमेंट और एमआईटी वर्ल्ड पीस यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित 13वें भारतीय छात्र संसद के उद्घाटन समारोह में कही।

कहा कि यदि नेता या जनप्रतिनिधि बार-बार अपनी पार्टियां बदलते हैं तो नागरिकों की राजनीति में रुचि कम हो जाएगी और यह लोकतंत्र के लिए भी बुरी बात होगी। कहा कि राजनीति में विरोधियों को विरोध करना चाहिए और सरकार को गलत काम करने से रोकना चाहिए।

Joinsub_watsapp