News-web

दरोगा को बेटी की हत्या कर , युवक ने चीला नहर में कूद लगाई कूद, शव बरामद

उत्तराखंड पुलिस में तैनात दारोगा की बेटी की हत्या कर चीला नहर में छलांग लगाने वाले युवक का शव को एसडीआरएफ ने बरामद कर लिया है। जानकारी के अनुसार बीते 6 मई की सुबह हरिद्वार देहरादून राजमार्ग पर रायवाला के निकट तीन पुलिस के समीप एक युवती का शव पड़ा हुआ मिला। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई । सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल शुरू कर दी।

इस दौरान पाया कि युवती की गला काटकर हत्या की गई थी। मृतक युवती की पहचान 20 बीघा बापू ग्राम ऋषिकेश निवासी आरती उम्र 26 वर्ष के रूप में हुई है। युवती के पिता शिव प्रसाद डबराल देहरादून जिले के शहर कोतवाली में उप निरीक्षक पद पर तैनात हैं।पुलिस ने बताया कि आरती रविवार की शाम आरती ने घर पर कहा कि वह अपने दोस्त शैलेंद्र भट्ट निवासी भद्रास्यूं पुजारगांव चंद्रबदनी हिंडोलाखाल टिहरी गढ़वाल वर्तमान निवासी बसंत कालोनी, श्यामपुर के जन्मदिन पर उसके घर जा रही है।

इसके बाद देर रात तक घर नहीं लौटी।देर तक घर ना लौटने पर परिजनों ने उसकी तलाश करना शुरू कर दिया, लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं लग पाया। स्वजनों ने इस संबंध में पुलिस को मौखिक सूचना दी। सोमवार सुबह उसका शव रायवाला के निकट से बरामद हुआ।

पुलिस ने जांच आगे बढ़ाई और शैलेंद्र की तलाश शुरू की तो पता चला कि वह भी घर से गायब था और उसकी बहन ने ऋषिकेश कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज कराई है। पुलिस ने शैलेंद्र के दोस्तों से पूछताछ शुरू की तो पता चला कि शैलेंद्र ने रात साढ़े नौ बजे चीला शक्तिनहर में छलांग दी है। घटना के पांच दिन युवक का शव बरामद हुआ है।