News-web

अब नहीं बिकेगी आपकी फेवरेट हल्दीराम, ऑफर्स से खुश नहीं है प्रमोटर्स

हल्दीराम के चहितों के लिए एक बुरी खबर है कि अब भारत की प्रसिद्ध नमकीन एवं स्नैक्स बनाने वाली कंपनी हल्दीराम अब नहीं बिकेगी। कंपनी के प्रमोटर्स उसे विभिन्न कंपनियों से मिले ऑफर्स के खुश नहीं हैं।

जिसके चलते कंपनी इसको बेचने का फैसले को टाल सकती है। हल्दीराम को खरीदने के 69,138 करोड़ रुपये (8.3 अरब डॉलर) का वैल्यूएशन लगाया गया था। प्रमोटर फैमिली को यह धनराशि पसंद नहीं आई है। इसके चलते वह इन ऑफर्स को नकार सकते हैं।

बता दें कि निजी इक्विटी फर्मों ने हल्दीराम स्नैक्स फूड्स को खरीदने के लिए नॉन बाइंडिंग ऑफर दिए थे। बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक हल्दीराम के वरिष्ठ अधिकारियों ने दावा करते हुए प्रमोटर्स ने निजी इक्विटी कंपनियों से कह दिया है कि वे इस वैल्यूएशन पर कंपनी नहीं बेच रहे हैं। हल्दीराम से जुड़े एक सूत्र ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि प्रमोटर्स द्वारा कंपनी बेचने की खबरें सच नहीं हैं।

हाल ही में आई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि ब्लैकस्टोन बेन कैपिटल और सिंगापुर की टेमासेक ने हल्दीराम स्नैक्स को खरीदने के लिए ऑफर दिए थे। रॉयटर्स के अनुसार, बीते वर्ष सितंबर में टाटा कंज्यूमर ने भी हल्दीराम में 51 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए बात की थी। उस समय प्रमोटर्स ने कंपनी की कीमत 83,300 करोड़ रुपये (10 अरब डॉलर) लगा दी थी। इसके चलते बात नहीं बन पाई थी।