Join WhatsApp

News-web

स्कूल के इस रिपोर्ट कार्ड को देखकर आपके भी उड़ जाएंगे होश, गणित में 200 में मिले हैं 211, गुजराती में मिले 200 में 212 अंक

Published on:

सोशल मीडिया पर एक रिजल्ट काफी तेजी से वायरल हो रहा है। यह रिजल्ट क्लास 4 में पढ़ने वाली एक छात्रा का है। रिपोर्ट कार्ड में कुल 6 सब्जेक्टों के नंबर दिखाई दे रहे हैं लेकिन इनमें से दो सब्जेक्ट ऐसे हैं जिसमें नंबरों की हेरा फेरी की गई है। यह वायरल रिजल्ट प्राइमरी स्कूल में हुई लापरवाही की पोल खोलता है।

दो सब्जेक्ट में गोलमाल

गुजरात के दाहोद जिले के खरसाना गांव की रहने वाली वंशीबेन मनीषभाई कटारा स्थानीय प्राइमरी स्कूल में पढ़ाई करती है। हाल ही में स्कूल ने रिजल्ट घोषित किया था। इसमें गुजराती, गणित, पर्यावरण, हिंदी, अंग्रेजी और व्यक्तित्व विकास के नंबर थे। छात्रा बेहतरीन नंबरों (93.40%) से पास हुई है। दो सब्जेक्ट में तो उसे अधिकतम अंक से भी ज्यादा नंबर आए हैं।

बताया जा रहा है की छात्रा को गुजराती में 200 में से 211 अंक मिले वही उसे गणित में 200 में से 212 अंक मिले  दूसरे विषयों की बात की जाए तो पर्यावरण में कुल 200 में से 169, हिंदी में 100 में से 94, अंग्रेजी में 100 में से 95 और व्यक्तिगत विकास में 200 में से 175 नंबर मिले हैं. जोड़ने के बाद 1000 में से कुल 965 अंक बन रहे हैं।

फिर स्कूल ने क्या किया?

रिजल्ट मिलने के बाद छात्र खुश होकर अपने परिवार के पास गई फिर घर वालों ने रिजल्ट में हुई गलती को पकड़ा इसके बाद यह बात पूरे गांव में फैल गई। इसके बाद छात्रा का रिजल्ट भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वंशीबेन के पिता मनीष कटारा ने इसकी जानकारी स्कूल प्रिंसिपल को भी दी। रिजल्ट बनाने में बड़ी गलती की जानकारी मिलते ही छात्र को दूसरे दिन नई मार्कशीट भी दी गई।

इस मामले पर स्कूल के प्रिंसिपल मानसिंह पारगी ने बताया,”परीक्षा फाइल सही है लेकिन कंप्यूटर में कॉपी पेस्ट में गलती हुई है। चूक तो हुई है टीचर से, दोबारा ऐसा नहीं होगा। हमने स्टूडेंट को जो मार्कशीट दी थी उसे वापस ले लिया है। बच्ची को नया रिजल्ट दिया गया है।

प्राइमरी स्कूल में हुई इस लापरवाही की जानकारी मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी ने जांच के आदेश दिए हैं।
वहीं इस मामले में छात्रा वंशीबेन के पिता मनीष कटारा ने खरसाना प्राइमारी स्कूल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।