News-web

9 घंटे में तीन बार बंद हुआ टनकपुर—चंपावत हाईवे, खतरा बरकरार

Published on:

टनकपुर सहयोगी
पिछले कुछ दिनों से रूक—रूक हो रही बारिश के चलते टनकपुर—चंपावत हाईवे में मलबा आने से कई बार यातायात बाधित हो गया है। शनिवार को भी कुछ ऐसा ही आलम रहा। एनएच में अलग—अलग जगहों पर मलबा आने से 9 घंटे में तीन बार आवाजाही बाधित रही।
टनकपुर—चंपावत हाईवे में पिछले कुछ दिनों से यात्री जान हथेली में लेकर आवाजाही करने के लिए मजबूर है। शनिवार को टनकपुर-चम्पावत एनएच में धौन, स्वाला और स्वाला मंदिर के पास तीन बार आवाजाही बाधित हो गई। सुबह 5:45 बजे धौन के पास चट्टान दरकने से काफी मलबा सड़क पर आ गिरा। मौके पर पहुंची प्रशासन की टीम ने करीब 7:30 बजे आवाजाही सुचारू की। लेकिन कुछ ही देर 8:45 बजे स्वाला के पास मलबा आ गया। इससे एक बार फिर आवाजाही बाधित हो गई। करीब ढाई घंटे बाद 11:15 बजे सड़क से मलबा हटाया जा सका। करीब सवा घंटे में स्वाला मंदिर के पास एक चट्टान दरकने से सारा मलबा सड़क में आ पड़ा। प्रशासन की टीम ने बमुश्किल 1:50 बजे तक मार्ग सुचारू कराया। जिसके बाद आवाजाही सुचारू हो सकी। हाईवे में जगह—जगह चट्टान दरकने यात्रियों में डर बना हुआ है। किसी तरह जान जोखिम में डालकर लोग यात्रा करने को मजबूर है।