shishu-mandir

मुनस्यारी:: क्वीरी जिमिया के शिवराज ने एनडीए(NDA) में किया देश में टॉप,गांव क्वीरी में जश्न का माहौल, प्राईमरी स्कूल में हुआ स्वागत

uttra uttra
5 Min Read
Screenshot-5

new-modern
gyan-vigyan

Munsiyari: Shivraj of Quiri Gymia tops the country in NDA, celebratory atmosphere in village Quiri, welcome in primary school

saraswati-bal-vidya-niketan

मुनस्यारी। 31 अगस्त 2023— एनडीए(NDA) प्रवेश परीक्षा 2023 में भारत वर्ष में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले शिवराज सिंह पछाई का उसके गांव क्वीरी जीमिया में जोरदार स्वागत किया गया।

शिवराज को उसके घर से उसे दूल्हा जैसा बनाकर उसे प्राथमिक विद्यालय में लाया गया। जहां उसने अंक तथा अक्षर ज्ञान प्राप्त किया था।
ग्रामीणों ने शिवराज को गले लगाकर बधाई एवं शुभकामनाएं दी। ढोल नगाड़ों की थाप पर और गले में फूलों की माला स्वागत की लम्हों को और अधिक यादगार बना रहे थे।

एनडीए (NDA)प्रवेश परीक्षा में भारतवर्ष में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले विकास खंड मुनस्यारी के ग्राम पंचायत क्वीरी जीमिया निवासी शिवराज सिंह पछाई आज अपने गांव पहली बार पहुंचे। गांव के लोगों ने ढोल नगाड़े बजाते हुए गीत व नृत्य के साथ शिवराज को उसके घर से स्वागत करते हुए विद्यालय तक जुलूस की शक्ल में पहुंचाया।

राजकीय प्राथमिक विद्यालय क्वीरी जीमिया में आयोजित स्वागत एवं सम्मान समारोह में ग्राम प्रधान गजेंद्र सिंह क्वीरीयाल ने ग्रामीणों की ओर से शाल पहनाकर शिवराज का अभिनंदन किया।


हर घर से लोग शिवराज के लिए माला लेकर आए थे, शिवराज के पिता भगत सिंह पछाई तथा माता श्रीमती धाना देवी पछाई भी जोरदार स्वागत किया गया। महिलाओं ने शिवराज सहित उसके परिवार की आरती उतारी। पारम्परिक वेशभूषा में महिलाओं ने लोक नृत्य भी किया।
जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया ने भी गांव पहुंचकर शिवराज को सम्मानित किया।


शिवराज के पिता भगत सिंह पछाई ने बताया कि अभिभावक अगर संवेदनशील होकर बच्चों परवरिश करे तो हर बच्चा शिवराज बन सकता है। उन्होंने बच्चों के लिए अच्छा वातावरण दिए जाने के बात कही। इस ग्राम पंचायत की पूर्व ग्राम प्रधान तथा सामाजिक कार्यकर्ता देवेंद्र सिंह देवा ने कहा कि आज गांव का नाम पूरे देश के नक्शे में आ गया। इसका श्रेय शिवराज को जाता है। उन्होने कहा कि हमें अपने परिवारों का माहौल बच्चों के सर्वांगीण विकास के अनुकूल बनाना होगा।


कार्यक्रम के अध्यक्षता करते हुए ग्राम प्रधान गजेंद्र सिंह क्वीरीयाल ने कहा कि हमारा गांव आज शिवराज के कारण गदगद है।हम गर्व से कह रहे है, कि हम उस गांव के निवासी है, जिस गांव में शिवराज पैदा हुआ है। जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया ने कहा कि हमारे क्षेत्र के बच्चे शिवराज से प्रेरणा लेकर आगे बढ़ेंगे।

हर क्षेत्र में शिवराज पैदा होंगे, इसके लिए अभिभावकों एवं शिक्षकों को आपसी सामंजस्य बनाकर हर क्षेत्र में शिवराज पैदा करने के लिए वातावरण का सृजन करना होगा। एनडीए(NDA) प्रवेश परीक्षा 2023 प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले शिवराज सिंह पछाई कहा कि हर बच्चा मेहनत करता है।अभिभावकों को अपने बच्चों का हर पल साथ साथ देना चाहिए।


इस मौके पर शिवराज ने कहा कि जब बच्चे असफल हो जाते है तब उन्हे अभिभावकों के अधिक सपोर्ट की आवश्यकता होती है। कहा कि वह अपने गांव के लोगो तथा गांव को कभी भी नहीं भूलेगा।बालिकाओं की शिक्षा पर शिवराज ने जोर देते हुए कहा कि बेटियों पर अधिक ध्यान दे।

उन्होंने कहा कि बेटी आपका सहारा बनेगी। संचालन प्रधानाध्यापक देवराज सिंह क्वीरीयाल ने किया। इस अवसर पर पूर्व प्रधान गंगा सिंह रावत, आंगनबाड़ी कार्यकत्री यमुना मर्तोलिया, प्रेम सिंह बृजवाल, महेंद्र सिंह क्वीरीयाल, भगत सिंह पछाई, पुष्कर सिंह क्वीरीयाल, भगवती पछाई, भवान सिंह पछाई, इन्दा रावत, कुसुमा बृजवाल, भगवती क्वीरीयाल, गंगोत्री पछाई, आनुली पछाई, लक्ष्मी क्वीरीयाल आदि मौजूद रहे।

जिस स्कूल में सीखा अक्षर ज्ञान वहीं हुआ सम्मान

मुनस्यारी।
यह एक अनमोल पल था, जब प्राथमिक विद्यालय के नन्हे बच्चों ने शिवराज को माला पहनाई।
जिस विद्यालय में शिवराज ने “अ,आ, क, ख” सीखा। आज उसी विद्यालय में उसका सम्मान हो रहा है।
राजकीय प्राथमिक विद्यालय के नन्हे बच्चों ने अपनी वरिष्ठ छात्र भाई को माला पहनकर उसका स्वागत किया। इस पल को देखकर सभी लोग गदगद हो गए।चारों तरफ तालियों की गूंज देर तक सुनाई देने लगी।