News-web

चारधाम यात्रा पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने रील पर रोक का किया समर्थन, आस्था और परंपराओं का ध्यान रखने की अपील

Published on:

चारधाम यात्रा के दौरान चारधामों के परिसर में रील बनाने पर रोक लगाने के सरकार के निर्णय का भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने समर्थन किया है। उन्होंने इसे सही और व्यावहारिक कदम बताया। उनका मानना है कि चारधाम यात्रा में रिकॉर्ड तोड़ श्रद्धालुओं का पहुंचना राज्य की आर्थिकी के लिए एक सुनहरा अवसर है।

गौरतलब हो, भट्ट ने कहा कि यात्रा को सुरक्षित और व्यवस्थित बनाने के लिए सभी का सहयोग बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी यात्रा व्यवस्थाओं की खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं और ग्राउंड जीरो पर जाकर यात्रियों से फीड बैक ले रहे हैं। यह आमजन और श्रद्धालुओं में उत्साह भरने वाला कदम है।

“साल-दर-साल तीर्थयात्रियों की बढ़ती संख्या प्रदेश की आर्थिकी के लिए सुनहरा अवसर है।” उन्होंने कहा, “लिहाजा सरकार के साथ हम सभी सवा करोड़ देवभूमिवासियों का भी दायित्व है कि राज्य की मेहमाननवाजी की शानदार तस्वीर लेकर श्रद्धालु जाएं।”

बता दें, इसके लिए सड़क, आवास, पानी, स्वास्थ्य, खानपान, संचार आदि की व्यवस्था दुरुस्त होना जरूरी है। उन्होंने धामों की क्षमता के अनुसार ही लोगों को वहां पहुंचना भी जरूरी बताया। भट्ट ने कहा कि ऐसा करने में तात्कालिक रूप से स्थानीय व्यावसायियों को कुछ नुकसान नजर आ सकता है। लेकिन, धीरे-धीरे यात्रा आगे बढ़ने पर बड़े लाभ के रूप में उन्हें स्थायी रूप से प्राप्त होने वाला है।

उन्होंने बिना पंजीकरण यात्रा की अनुमति न देने के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने यात्रा पर आने वाले सभी श्रद्धालुओं से आग्रह किया कि अन्य लोगों की आस्था, परंपरा एवं रीति रिवाजों को चोट पहुंचाने वाला कोई कृत्य न करें। यदि ऐसा कहीं कुछ नजर आता है तो तत्काल प्रशासन को सूचित करें। भट्ट ने विपक्ष से भी सहयोग की अपील की।