बग्वालीपोखर में ऐतिहासिक बग्वाई कौतिक हुआ शुरू

उत्तरा न्यूज डेस्क
4 Min Read

बग्वालीपोखर। बग्वालीपोखर के ऐतिहासिक बग्वाई कौतिक (बग्वाली मेला) का विधिवत शुभारम्भ क्षेत्रीय विधायक मदन सिंह बिष्ट, वरिष्ठ पत्रकार चारु तिवारी, मनोहर भंडारी, समिति के पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों एवं क्षेत्र के प्रमुख वरिष्ठ नागरिकों द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। इसके साथ ही रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आगाज़ हो गया। भण्डरगांव से पधान और थोकदार परिवारों के नेतृत्व में ओढ़ा भेंटने की परम्परा का निर्वहन किया गया। कार्यक्रम में बग्वाई कौतिक से जुड़े एवं क्षेत्र के विकास में अलग-अलग क्षेत्रों में अपना महत्त्वपूर्ण योदगान देने वाले क्षेत्र के वरिष्ठ नागरिकों को बग्वाई मेला समिति सम्मान से सम्मानित किया गया।

इसमें मनोहर सिंह भंडारी, हरिशरण शर्मा, शिव दत्त पांडे, मोहन सिंह बिष्ट, शेर राम (समधी दास), राजेंद्र प्रसाद त्रिपाठी, भूपाल सिंह भरड़ा, गोपाल सिंह बिष्ट, ललित मोहन पांडे, भवान सिंह भंडारी, बहादुर सिंह भंडारी को समिति द्वारा सम्मानित किया गया। वरिष्ठ पत्रकार चारु तिवारी को लोक प्रकृति संस्था और बग्वाई मेला समिति द्वारा संयुक्त रूप से इस वर्ष का ‘लोक प्रकृत्ति सम्मान’ प्रदान किया गया। उन्हें यह सम्मान लोक प्रकृति के अध्यक्ष डॉ. दीपक मेहता एवं बग्वाई मेला समिति के अध्यक्ष सुबेदार मेजर हरी सिंह भंडारी द्वारा संयुक्त रूप से द्वारा प्रदान किया गया।

नेहरु युवा सांस्कृतिक कला समिति बान ठोक अल्मोड़ा और मां नंदा सुनंदा सांस्कृतिक कला समिति, बागेश्वर द्वारा छोलिया नृत्य और विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गए। मेले के प्रथम दिवस के रात्रि कार्यक्रम लोक संध्या में लोक गायिका माया उपाध्याय, जितेन्द्र तोमक्याल एवं अन्य लोक कलाकारों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये।

विधायक मदन सिंह बिष्ट ने मेले में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाते हुए कहा कि इस पौराणिक मेले में नई पीढ़ी के युवा कुछ नए प्रयोगों के साथ मेले को बेहतर बनाने का प्रयास कर रहे हैं जिसके लिए क्षेत्र के युवा बधाई के पात्र हैं। वरिष्ठ पत्रकार चारु तिवारी ने बग्वालीपोखर के गौरवशाली इतिहास और बग्वाई कौतिक के बारे में विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। इसके अलावा क्षेत्रीय कलाकारों व विभिन्न विद्यालयों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी मेले में दी। सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज, दीक्षा मॉन्टेशरी स्कूल व जीजीआईसी बग्वालीपोखर के बच्चों ने भी रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये।

माँ नंदा सुनंदा की टीम ने शानदार छोलिया नृत्य प्रस्तुत किया। रूचि आर्या, प्रताप सिंह शाही (टाइगर), नंदलाल आर्या आदि गायकों ने भी अपनी सुन्दर प्रस्तुतियां दी। रुचि आर्या ने ओ मैया भवानी मैया और नसेड़ी दगाड़ पाल पड़ी गो, आदु लागी कुड़ उसी कै रैगो आदि गीत गाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।मेले में स्वास्थ्य विभाग की ओर से मेला परिसर में ही चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध करवाई गई थी। जिसमें डॉ. रविशंकर, प्रभाँसू गोस्वामी, फार्मासिस्ट कैलाश थापा, भुवन भंडारी, सहित स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम उपस्थित रही।

मेले में मेला समिति के अध्यक्ष सुबेदार मेजर हरी सिंह भंडारी, सचिव प्रमोद जोशी, कोषाध्यक्ष विनोद अधिकारी, उपाध्यक्ष रमेश नेगी, सांस्कृतिक सचिव डॉ दीपक मेहता, सन्तोष बिष्ट, त्रिभुवन बिष्ट, जगत सिंह भण्डारी, जीवन अधिकारी, कुंदन सिंह, अजय नेगी, व्यापार मंडल के सचिव बलवीर भंडारी व अध्यक्ष अर्जुन बिष्ट, शिवदत्त पांडे, भानू जोशी, डीडी जोशी, सुरेन्द्र सिंह बिष्ट, हेम पन्त, मेला समिति के पूर्व अध्यक्ष हरी सिंह भंडारी व पूर्व सचिव मनोज पांडे, प्रकाश भंडारी, विमल बिष्ट आदि लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ संतोष सिंह बिष्ट ने किया।

Joinsub_watsapp