ब्रजभूषण की गिरफ्तारी को 15 जून तक का अल्टीमेटम, एशियाई खेलो में भाग लेने को लेकर खिलाड़ियों ने यह कहा

Newsdesk Uttranews
1 Min Read
पहलवानो का आंदोलन फाइल फोटो

दिल्ली। भारतीय कुश्ती महासंघ के निवर्तमान अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह और पहलवानों के बीच चल रही खींचतान के बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है।

जानकारी के अनुसार शनिवार को पहलवान साक्षी मलिक, बजरंग पूनिया आदि की उपस्थिति में सोनीपत में आयोजित खाप महापंचायत में फैसला लिया गया कि 15 जून तक यदि बृजभूषण की गिरफ्तारी नहीं हुई तो पहलवान दिल्ली में फिर धरना-प्रदर्शन करेंगे। वहीं, पंचायत के बाद साक्षी मलिक ने ऐलान किया कि वह एशियाई खेलों में तभी जाएंगे जब यह सारा मुद्दा हल हो जाएगा।


बताते चलें कि एशियाई खेल इस वर्ष 23 सितंबर से 8 अक्तूबर तक चीन में होने है। 30 जून से पहले टीम का चयन किया जाना है। पहलवानों ने बताया कि कुछ मांगों पर सरकार के साथ उनकी सहमति बन गई है, लेकिन बृजभूषण की गिरफ्तारी को लेकर रजामंदी नहीं बन सकी है। वहीं बजरंग पूनिया ने नाबालिग के पिता द्वारा बयान से पलटने पर कहा कि वह कह चुके हैं कि हम पर दबाव बनाया जा रहा है।कहा कि बृजभूषण शरण की गिरफ्तारी ही उनकी प्राथमिकता सूची में शामिल है।

adbanner