उम्मीद जगाती खबर- 96 साल की बुजुर्ग महिला ने दी कोरोना (Corona) को मात

Newsdesk Uttranews
5 Min Read

15 मई 2021
कोविड-19 (Corona) महामारी में जहां चारों
तरफ से बुरी खबरें आ रही है ऐसे में एक अच्छी खबर सामने आई है। कोविड-19 की दूसरी डराने वाली लहर के बीच यह अच्छी खबर आई है दिल्ली से, यहां 96 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने दी कोरोना को मात दी है।

दिल्ली के शाहदरा में रहने वाली 96 साल की पुष्पा शर्मा ने कोरोना वायरस को मात दे दी है। उन्होंने जीवन के प्रति सकारात्मक नजरियें की मिसाल पेश की है और अपने आत्मबल से कोरोना पर विजय पाई।

Corona: बच्चों के लिए नर्सिंग कॉलेज में 100 बेड स्थापित

Corona: रानीखेत, पिथौरागढ़ और श्रीनगर आर्मी अस्पताल सविलियंस के लिए खुलेंगे

96 वर्षीय पुष्पा दिल्ली के नवीन शाहदरा में अपने बेटे अरुण कुमार (67) और बहू मीना (64) के रहती हैं। वह पिछले माह 18 अप्रैल को पुष्पा कोरोना (Corona) वायरस संक्रमण से पीड़ित हो गई थी। उस समय दिल्ली के अस्पतालों की हालत बहुत खराब थी और पुष्पा पॉजिटिव आने के बाद अपने घर पर ही आइसोलेट थी। घर में रहकर ही उन्होंने अपना इलाज करवाया और अपनी जिजीविशा से कोरोना वायरस को मात दे दी।

पुष्पा के 35 साल के पोते कुणाल ने बताया कि उनकी दादी विगत 18 अप्रैल को कोरोना वायरस संक्रमण संक्रमित पाई गयी थीं और घर पर आइसोलशन में रहकर वह इलाज करवा रही थी। ​और इस माह 9 मई को उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है और अब वह पूर्णत: स्वस्थ है। कुणाल ने कहा वह दौर उनके परिवार के लिये बहुत कठिन रहा।

Corona- अल्मोड़ा (Almora) में 3 महिलाओं व एक अधेड़ की कोरोना संक्रमण से मौत

कोरोना (Corona) से जंग: विधायक धामी ने 2 करोड़ दिए

परिवार के कई लोग कोरोना पॉजिटिव आ चुके थे लेकिन उनकी दादी ने डॉक्टरों की सलाह पर अमल कर अपना इलाज कराया और अपने सकारात्मक विचारों से आखिरकार कोरोना वायरस संक्रमण को मात दे दी। कुणाल ने बताया कि उस उनके परिवार के कई लोग भी कोरोना (Corona) संक्रमित पाये गये थे और वह दौर काफी चुनौती भरा था और कई देशो में मेडिकल इमजेंसी उधर ओलंपिक के आयोजन को रद्द करने की मांग के बीच जापान ने देश में आपातकाल की अवधि बढ़ा दी है।

डब्ल्यूएचओ (WHO) के महानिदेशक ने कहा कि महामारी से मौतों की तादाद काफी तेजी से बढ़ी है. जापान ने ओलंपिक के आयोजन के महज 10 हफ्तों पहले तीन और इलाकों में इमरजेंसी घोषित कर दी है। जबकि 3 लाख 50 हजार से ज्यादा हस्ताक्षरों वाले एक कंपेन में आयोजन को रद्द करने की मांग की गई है। टोक्यो और आसपास का इलाका तो मई के अंत तक आपातकाल के आदेश के तहत था, अब हिरोशिमा, ओकायामा, उत्तरी होक्काईदो को भी इसके दायरे में लाया गया है, जहां ओलंपिक मैराथन (Olympic Marathon) का आयोजन होना है।

गौरतलब है कि कोरोना की चौथी लहर के कारण जापान का मेडिकल तंत्र भी बेहद दबाव में है। जनता इस साल वहां ओलंपिक खेलों के आयोजन के खिलाफ आवाज उठा रही है। टोक्यो के गवर्नर पद के उम्मीदवार रह चुके केंजी सुनोमीया ने कहा कि हमें जिंदगी बचाने को प्राथमिकता देनी चाहिए, न कि समारोह को उन्होंने शहर के प्रशासकों को साढ़े तीन लाख से ज्यादा हस्ताक्षर वाली याचिका सौंपी है।

ताइवान के लिए भी बुरी खबर है, ताइवान की राजधानी में सभी मनोरंजन स्थल अनिश्चितकाल काल के लिए बंद कर दिए गए हैं। लाइब्रेरी और खेलकूद के केंद्र भी बंद हैं। यहां पायलटों में कोरोना का संक्रमण मिला है, जिसके बाद सरकार चौकन्ना हो गई है। ताइवान में अभी तक कोरोना के महज 1290 मामले सामने आए हैं और सिर्फ 12 मौतें हुई हैं।

राजधानी ताइपेई में शनिवार से बार, डांस क्लब, कराओके लाउंज, नाइट क्लब, इंटरनेट कैफे समेत सभी प्रकार के मनोरंजन स्थलों पर ताले लग जाएंगे। उधर भारत में कोरोना के रोजाना 3.5 से 4 लाख केस सामने आ रहे हैं, जबकि रोजाना मौतों का आंकड़ा भी चार हजार के करीब है। भारत ने वैक्सीन की किल्लत को देखते हुए रूस की स्पूतनिक वी (Sputnik V) वैक्सीन से भी टीकाकरण की शुरुआत कर दी है।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/videos

Joinsub_watsapp