अल्मोड़ा: जोश्याना गांव में जमीन में अतिक्रमण का आरोप(land encroachment ), ग्रामीणों के प्रदर्शन को बिट्टू कर्नाटक का समर्थन

editor1
2 Min Read

Almora: Allegation of land encroachment in Joshyana village, Bittu Karnataka supports the villagers’ protest

अल्मोड़ा, 15 नवंबर 2023- अल्मोड़ा जिला मुख्यालय के हवालबाग ब्लाक के ज्योश्याना गांव में ग्रामवासियों ने जमीन पर अतिक्रमण (land encroachment )का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया।


प्रदर्शन को पूर्व दर्जामंत्री बिट्टू कर्नाटक ने भी अपना समर्थन दिया और मौके पर पहुंच कर ग्रामीणों को आश्वाशन दिया कि स्थानीय लोगों का उत्पीड़न नहीं होने देंगे।


हवालबाग ब्लाक के ज्योशियाना ग्रामवासियों ने जमीन में अतिक्रमण करने का आरोप लगाया है साथ ही कहा कि प्रशासन से शिकायत करने के बाद भी अनदेखी की जा रही है।


ग्रामवासियों के द्वारा आज पूर्व दर्जामंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बिट्टू कर्नाटक को अपने गांव बुलवाकर ग्रामवासियों की मदद करने की बात कही गयी।जिस पर पूर्व दर्जामंत्री बिट्टू कर्नाटक ने तत्काल मौके पर पहुंच स्थिति का जायजा लिया तथा कहा कि किसी भी स्थिति में स्थानीय लोगों के अधिकारों का हनन नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन को तुरन्त हस्तक्षेप कर इस मामले को गंभीरता से लेकर सम्बन्धित व्यक्ति पर कार्यवाही करनी चाहिए।


इस अवसर पर ग्रामवासियों ने जोरदार नारेबाजी भी की। ग्रामवासियों का आरोप है कि बाहरी व्यक्ति के द्वारा यहां कुछ जमीन खरीदी गयी तथा अब गांव वालों की जमीन पर कब्जा (land encroachment )करने का प्रयास किया जा रहा है।

land encroachment
land encroachment


मौके पर पहुंचे पूर्व दर्जामंत्री बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि इस तरह से भोले भाले ग्रामवासियों की जमीन पर किसी को भी कब्जा नहीं करने दिया जाएगा।इसके लिए वे स्वयं जिलाधिकारी और यदि आवश्यकता पड़ी तो मुख्यमंत्री से भी सीधा संवाद करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि उत्तराखंड में सशक्त भू कानून बन गया होता तो आज यह नौबत नहीं आती कि हमारे पहाड़ी क्षेत्र के लोगों को भू माफिया इस तरह से परेशान करने का काम करते।


प्रदर्शन करने वालों में रमेश जोशी,मोहन चन्द्र जोशी, जगदीश चन्द्र जोशी,मोहन जोशी,भास्कर जोशी,तारा जोशी, राकेश जोशी,गोपाल दत्त जोशी,दीप चन्द्र जोशी, दिनेश चन्द्र जोशी,शंकर दत्त तिवारी सहित अनेक ग्रामवासी मौजूद रहे।

Joinsub_watsapp