Join WhatsApp

News-web

एक मां ने ममता को किया शर्मसार,अपने 6 साल के दिव्यांग बच्चे को फेंका मगरमच्छों के बीच,जाने क्या है पूरा मामला

Published on:

Karnataka Crime News: कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले के दांडेली तालुक इलाके में 26 वार्षिक महिला ने पति से झगड़ा होने के बाद अपने 6 वर्षीय दिव्यांग बेटे को मगरमच्छ से भरी हुई नदी में फेंक दिया। पुलिस का कहना है कि दंपति अक्सर अपने बड़े बेटे की स्थिति को लेकर एक दूसरे के साथ लड़ते थे।

दिव्यांग था बच्चा इसलिए होती थी लड़ाई

पुलिस का कहना है कि यह बच्चा जन्म से ही बोल नहीं पाता था। उनका 2 साल का एक और बेटा भी है। उन्होंने कहा कि सावित्री का 27 वर्षीय पति रवि कुमार बड़े बेटे की दिव्यांगता को लेकर अक्सर लड़ाई करता था और सवाल करता था कि ऐसे बच्चे को क्यों जन्म दिया। कभी-कभी वह कथित तौर पर यह भी कहता था कि इसे फेंक दो।

मगरमच्छ से भरी नदी में बेट को फेंका

पुलिस के अनुसार शनिवार 4 में को सावित्री का फिर इसी बात पर अपने पति के साथ झगड़ा हुआ। इससे नाराज होकर उसने अपने बड़े बेटे को मगरमच्छ से भरी हुई नदी में फेंक दिया। पड़ोसियों ने इस बारे में पुलिस को बताया इसके बाद पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने स्थानीय लोगों और गोताखोरों की मदद से बच्चे को बचाने के लिए तलाशी अभियान चलाया लेकिन अंधेरा होने के कारण पुलिस बच्चे को ढूंढ नहीं पाई।

मगरमच्छ ने किया बच्चे का शिकार

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि रविवार (5 मई) की सुबह बच्चे का शव मिला। उसके शरीर पर गंभीर चोटें, काटने के निशान और उसका एक हाथ गायब था. इससे पता चलता है कि मगरमच्छ ने बच्चे का शिकार किया। पुलिस ने बताया कि मौत के सही कारण का पता लगाने के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। इस मामले में जांच की जा रही है। अधिकारी ने बताया कि हमने मामला दर्ज कर पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है।