Uttarakhand से बड़ी खबर: पीआरओ को हटाने के बाद सरकार ने जारी किए नए निर्देश

Newsdesk Uttranews
2 Min Read
News

देहरादून , 11 दिसंबर 2021-

Uttarakhand मुख्यमंत्री दफ्तर में तैनात पीआरओ द्वारा वाहनों के चालान माफ किये जाने सम्बन्धी पत्र वायरल होने के बाद सरकार हरकत में आ गई है।

Uttarakhand: पैतृक गांव में मकान बनाने पहुंचे दम्पत्ति की अंगीठी की गैस लगने से मौत


मामले में जहाँ सीएम पुष्कर सिंह धामी की नाराजगी के बाद पीआरओ नंदन सिंह बिष्ट को हटा दिया गया है।वहीं अब अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री आंनद वर्धन ने निर्देश जारी करते हुए कहा है कि अब सीएम दफ्तर में  तैनात कोई भी ओएसडी पीआरओ अथवा कॉर्डिनेटर न तो कोई लेटर हेड का इस्तेमाल करेगा न ही सिग्नेचर का इस्तेमाल करते हुए पत्र जारी करेगा।

Contents
देहरादून , 11 दिसंबर 2021-Uttarakhand मुख्यमंत्री दफ्तर में तैनात पीआरओ द्वारा वाहनों के चालान माफ किये जाने सम्बन्धी पत्र वायरल होने के बाद सरकार हरकत में आ गई है।Uttarakhand: पैतृक गांव में मकान बनाने पहुंचे दम्पत्ति की अंगीठी की गैस लगने से मौतसंबधित खबरuttarakhand Breaking : लैटर वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री धामी ने पीआरओ को हटाने के दिये निर्देशसरकार ने दिये यह निर्देशUttarakhand breaking: omicron का खतरा, उत्तराखंड में विदेश से आए 240 लोग लापता, स्वास्थ्य विभाग की उड़ी नींदयह लैटर हुआ था वायरलसंबधित खबरबागेश्वर:: सीएम के जनसंपर्क अधिकारी के नाम से वाहन चालान निरस्त करने को भेजा गया पत्र, वायरल होने पर उठने लगे सवाल

संबधित खबर

uttarakhand Breaking : लैटर वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री धामी ने पीआरओ को हटाने के दिये निर्देश

सरकार ने दिये यह निर्देश

uttarakhand-dismissal-of-pro-and-government-issued-instructions


मालूम हो कि बागेश्वर के एसपी को संबोधित एक पत्र बीते दिवस खूब वायरल हो रहा था जिसमें तीन वाहनों के चालान रद करने को कहा गया था जारी करने वाले के पदनाम में नंदन सिंह बिष्ट पीआरओ सीएम लिखा था वहीं राजकीय मोनोग्राम वाला लेटर हैड का इस्तेमाल किया गया था।

Uttarakhand breaking: omicron का खतरा, उत्तराखंड में विदेश से आए 240 लोग लापता, स्वास्थ्य विभाग की उड़ी नींद

यह लैटर हुआ था वायरल

viral letter of cm pro uttarakhand

संबधित खबर

बागेश्वर:: सीएम के जनसंपर्क अधिकारी के नाम से वाहन चालान निरस्त करने को भेजा गया पत्र, वायरल होने पर उठने लगे सवाल

पत्र सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ शनिवार को सीएम के निर्देश पर पीआरओ नंदन सिंह बिष्ट को हटा दिया गया हैअपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री आंनद वर्धन ने निर्देश जारी करते हुए कहा है कि अब सीएम दफ्तर में  तैनात कोई भी ओएसडी पीआरओ अथवा कॉर्डिनेटर न तो कोई लेटर हेड का इस्तेमाल करेगा न ही सिग्नेचर का इस्तेमाल करते हुए पत्र जारी करेगा।