Uttarakhand- जिला व तहसील कार्यालय के बाद अब विकास भवन के सभी कार्यालय ई-ऑफिस प्रणाली से जुड़ेंगें, पढ़ें पूरी खबर

Newsdesk Uttranews
4 Min Read

बागेश्वर, 12 अप्रैल 2021- Uttarakhandजिला कार्यालय, तहसील कार्यालयों के साथ ही विकास भवन के सभी कार्यालय भी अब ई-ऑफिस प्रणाली से जुड जायेंगे। जिलाधिकारी विनीत कुमार ने विकास भवन सभागार में इसका शुभारंभ किया। इस अवसर विकास भवन के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को ई-ऑफिस प्रणाली के संबंध में प्रशिक्षण उपलब्ध कराया गया।

यह भी पढ़े…

Uttarakhand: दर्दनाक सड़क हादसा- दो किशोरों समेत 3 की मौत

Uttarakhand – कोरोना (corona in uttarakhand) हुआ हाईस्पीड, एक दिन में 13 मौत, 1953 संक्रमित

जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का निराकरण त्वरित गति से करने के उददेश्य से जिला कार्यालय को ई-ऑफिस प्रणाली से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री ने 24 अक्टूबर, 2020 को शुभारंभ किया गया था। उसके बाद जिलाधिकारी विनीत कुमार द्वारा जनपद के सभी तहसील कार्यलयों में ई-ऑफिस प्रणाली से कार्य शुरू करने के लिए इसका शुभारम्भ किया गया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार ने ई-ऑफिस प्रणाली को इसलिए बढ़ावा दिया है कि आम जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का एक निर्धारित समयसीमा के अंतर्गत निस्तारण हो। इसके लिए ई-ऑफिस प्रणाली के माध्यम से प्राप्त होने वाले आवेदनों का निराकरण किया जायेगा। इससे कार्यो में भी पारदर्शिता के साथ गतिशीलता भी आयेगी तथा सरकार और प्रशासन के प्रति लोगों का विश्वास भी बढ़ेगा।

यह भी पढ़े…

Corona in uttarakhand- 24 घंटे में 37 की मौत, 2757 नए मामले

Uttarakhand- पूर्णागिरी धाम (Purnagiri Dham) में 4जी सेवाओं का सीएम ने किया वर्चुअली शुभारंभ

उन्होंने कहा कि ई-ऑफिस प्रणाली से जहां कार्यो में तेजी आयेगी तथा लोगों को अनावश्यक कार्यालयों में नहीं भटकना पड़ेगा। इस प्रणाली से अधिकारियों का समय भी बचेगा और लोगों का धन की बचत भी होगी। उन्होंने कहा कि ई-ऑफिस से कार्यों में पारदर्शिता के साथ-साथ एक सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे यह पता भी चल सकेगा कि फाइल किस पटल व किस विभाग के पास लम्बित है। लंबे समय तक अब कोई फाइल किसी पटल पर नहीं अटकेगी। समय से फाइलों का निपटारा होने से विकास के कार्यों में और तेजी आएगी।

जिलाधिकारी ने कहा ई-ऑफिस पूर्णतया पेपर लेस है, इसमें डेटा कलेक्ट व सुरक्षित रहेगा। कंप्यूटर पर ही फाइलों के स्टेटस भी अपडेट होते रहेंगे। उन्होंने कहा कि ई-ऑफिस के सफल संचालन के लिए नेटवर्क हेतु स्वान के माध्यम से ही संचालित किया जायेगा। इसके लिए उन्होंने जिन कार्योलयों में स्वान की नेटवर्क की व्यवस्था नहीं है वहां स्वान नेटवर्क की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जायेगी।

इस अवसर पर जिला सूचना विज्ञान अधिकारी भावेश जगरिया व ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर रोहित बहुगुणा ने ई-ऑफिस प्रणाली के संबंध में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को विस्तार से जानकारी दी गयी।

इस अवसर पर अपर मुख्य विकास अधिकारी डीडी पंत, जिला विकास अधिकारी केएन तिवारी, परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, मुख्य कृषि अधिकारी वीपी मौर्या, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डाॅ. उदय शंकर, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी देवेन्द्र नाथ गोस्वामी, जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेन्द्र प्रसाद बिष्ट सहित संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/videos

adbanner