उत्तरा न्यूज
अभी अभी बागेश्वर

Bageshwar – जिला स्तरीय वनाग्नि सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित

Bageshwar - District level forest fire protection committee meeting held

बागेश्वर 08 जनवरी, 2022

जिला स्तरीय वनाग्नि सुरक्षा समिति की बैठक जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार में संपन्न हुई। बैठक के दौरान अग्नि सुरक्षा योजना के उद्देश्य, दावाग्नि के प्रकार, इसके कारण, वन अग्नि दुर्घटना के दुष्परिणाम व नियंत्रण के उपाय सहित वनाग्नि काल 2022 की चुनौतियों को लेकर आवश्यक चर्चा की गयी।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि वनाग्नि के दौरान सर्वप्रथम रेस्पोंडेंट ग्रामीण होते है, ऐसे में वन विभाग गांव में ही इच्छुक लोगों को चिन्हित कर वनाग्नि से बचाव व रोकथाम हेतु उन्हें प्रशिक्षित किया जाय। उन्होंने कहा कि आम आदमी क्षेत्र में लगने वाली वनाग्नि की सूचना वन विभाग या कंट्रोल रूम को समय से पहुँचा सके, इसके लिए अति संवेदनशील स्थलों पर वन विभाग एवं कंट्रोल रूम के नम्बरों का प्रचार प्रसार किया जाय। इसके साथ ही विद्युत विभाग को वृक्षों की लॉपिंग करने, वन विभाग को प्रत्येक वनाग्नि की घटना की रिपोर्टिंग, वनाग्नि घटनाओं की मैपिंग करने के निर्देश दियें।

nitin communication

जिलाधिकारी ने कहा कि वनाग्नि को राकने के लिए जनसहभागिता अधिक से अधिक हो, इसके लिए यह जरूरी है कि संबंधित ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधानां, ग्राम पंचायत सदस्यों को प्रशिक्षण देकर उनके दायित्व निर्धारित किये जाय। उन्हांने कहा कि क्रू स्टेशनों का रखरवाव उचित ढंग से हो तथा कंट्रोल रूम में वनाग्नि की सूचना समय से आये इसके लिए संबंधितां को हमेषा सर्तक रहने के निर्देश दियें जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि वनाग्नि के कारण किसी भी प्रकार की जन हानि या अन्य प्रकार का नुकसान न हो यह हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए, इसलिए सब डिविजन स्तर पर इसकी बैठके आयोजित कर माइक्रो प्लांन तैयार किया जाय।

जिलाधिकारी ने कहा कि वनाग्नि की घटनाओं को कम करने के लिए स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ ही जनप्रतिनिधियां को भी इसमें सम्मिलित किया, तथा ग्राम पंचायत स्तर पर गोषठियां आयोजित कर अधिक से अधिक लोगो को जागरूक किया जाय।

बैठक के दौरान प्रभागीय वनाधिकारी हिमांषु बागरी ने अग्नि सुरक्षा योजना के उद्देश्य के तहत जनपद के अंतर्गत समस्त आरक्षित, पंचायती व सिविल वन क्षेत्रों में अग्नि सुरक्षा के लिए अग्नि निवारक तथा अग्नि नियंत्रण के उपाय, वनाग्नि के दुष्परिणामों के प्रति जन-जागरुकता व गोष्ठियों के माध्यम से स्थानीय निवासियों की सहभागिता, अग्नि दुर्घटनाओं के लिए दोषियों को दंडित करने सहित दावाग्नि से वन एवं वन्य जंतुओं की सुरक्षा कर पर्यावरण संतुलन महत्व पर प्रकाश डाला।

बैठक में पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी डीडी पंत, परियोजना निदेशक संजय सिंह, उपजिलाधिकारी बागेश्वर हरगिरि, अधि0अभि0 लोनिवि बागेष्वर राजकुमार, कपकोट संजय पांडे, जल संस्थान डीएस देवडी, सहायक संभागीय परिहवन कर अधिकारी हरीश रावल, वृक्षप्रेमी किशन सिंह मलडा, महाप्रबंधक उद्योग जीपी दुर्गापाल, तहसीलदार पूजा शर्मा सहित वन क्षेत्राधिकारी, वन पंचायत सरपंच संगठन के अध्यक्ष व संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Related posts

ढौरा में लगाया गया स्वास्थ्य शिविर

उत्तरा न्यूज डेस्क

एमके क्लासिक ओपन अंतर्राष्ट्रीय चैंपियनशिप में अल्मोड़ा के खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन, 4 स्वर्ण व 1 रजत पदक झटके

Newsdesk Uttranews

बिग ब्रेकिंग — शनिवार को उत्तराखंड में 4 नये लोगों में कोरोना पॉजीटिव (corona Positive)की पुष्टि

Newsdesk Uttranews
error: Content is protected !!