News-web

सोडा की बोतल में निकला कचरा तो प्रशासन हुआ एक्टिव, मारा छापा 768 बोतले हुई सीज

Updated on:

इस तरह की घटनाएं उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक होती हैं और इसलिए इस तरह के मामलों में प्रशासनिक शक्ति और निगरानी होना बेहद जरूरी है। हरिद्वार प्रशासन ऐसे ही मामलों पर अब सख्त कार्यवाही कर रहा है ताकि ऐसी घटनाएं दोबारा ना हो सके।

हरिद्वार में एक सोडा प्लांट पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है  यह कार्रवाई तब की गई जब सोडा की एक बोतल में कचरा होने की शिकायत मिली। एसडीएम की अगुवाई वाली टीम में सोडा बनाने वाले प्लांट पर छापा मारा गया और इसमें 768 सोडा बोतलों को सीज कर दिया। खाद्य सुरक्षा विभाग ने भी सोडा बोतलों के सैंपल ले लिए हैं।

आपको बता दे की हरिद्वार के रोड़ी बेलवाला क्षेत्र की एक दुकान पर बंद सोडा बोतलों में कचरा होने की शिकायत खाद्य सुरक्षा विभाग को मिली थी। इस शिकायत के बाद विभाग ने अपनी एक टीम से जांच करने के लिए कहा और हरिद्वार इंडस्ट्रियल एरिया में स्थित एक सौदा प्लांट का पता लगाया जहां सौदा तैयार करके बोतलों में भरा जाता है।

एसडीएम के नेतृत्व में टीम ने इस सोडा प्लांट पर छापा मारा और इस दौरान कई सारी संदिग्ध बोतले पाई गई जिसमें कुल 768 बोतलों को सीज भी कर दिया गया और तीन सोडा बोतलों का सैंपल जांच के लिए लैब में भेजा गया।

एसडीएम ने बताया कि इस तरह की शिकायतें गंभीर हैं और जनता के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कड़ी कार्रवाई की जा रही है। खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारी भी इस मामले में पूरी सतर्कता बरत रहे हैं और जांच के नतीजे आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।