उत्तरा न्यूज
अभी अभी

Weather update: देश के इन राज्यों में आज भारी बारिश का अलर्ट, देखिए आपके राज्य में क्या है हाल

weather update

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

उत्तर भारत के क्षेत्र में ठंड बहुत बढ़ती जा रही है और टेंपरेचर में भी काफी गिरावट देखी जा सकती है। पहाड़ों में बारिश और बर्फबारी का असर देखने को मिल रहा है। महिम अगर दक्षिण भारत की बात करें तो उन राज्यों में आज भी भारी बारिश की आशंका है। Cyclone Mandous की वजह से भारत के दक्षिणी क्षेत्र में लगातार भारी बारिश हो रही है।

Metrological department के अनुसार Cyclone Mandous के कारण इन राज्यों में अगले दो से तीनों दिनों तक लगातार भारी बारिश होती रहेगी। चक्रवात मैंडूस को देखते हुए Metrological department ने मछुआरों के अगले 3-4 दिनों तक समुद्र में न जाने की अपील की है। साथ ही आम लोगों से तटीय इलाकों से रहने की बात कही है, जिससे वे जानमाल के नुकसान से बचा जा सके।

Cyclone Mandous को देखते हुए प्रभावित राज्यों में एहतियातन कई कदम उठाए गए हैं। तमिलनाडु SDRF की 40 सदस्यीय टीम के अलावा 16,000 पुलिसकर्मियों और 1,500 homeguard को तैनात किया गया है। इसके साथ ही DDRF की 12 टीमों को भी तैयार रखा गया है। जबकि NDRF और SDRF के लगभग 400 कर्मियों को पहले ही कावेरी डेल्टा क्षेत्र समेत तटीय इलाकों में तैनात कर दिया गया है।

जहां एक ओर दक्षिण भारत में भारी बारिश चल रही है तो वहीं पहाड़ियों से आ रही बर्फीली हवाओं के कारण भारत के उत्तरी भाग के मैदानी इलाकों में तापमान तेजी से गिर रहा है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, समेत कई राज्यों में तापमान का पारा तेजी से नीचे लुढ़कता जा रहा है। आलम यह है कि दिसंबर के दूसरे हफ्ते में ही देश के कई हिस्सों में शीतलहर चलने लगी है। इससे लोगों की मुश्किलें लगतार बढ़ती दिख रही है।

दरअसल जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के पहाड़ों पर Western disturbance के कारण पिछले कई दिनों लगातार बर्फबारी और बारिश हो रही है। Meteorological Department की मानें तो अगले कुछ दिनों तक गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के पहाड़ों पर बर्फबारी के साथ बारिश के आसार हैं। इस बीच पश्चिमी विक्षोभ (Western disturbance) उत्तरी पाकिस्तान व इससे सटे इलाकों से आगे बढ़ने की संभावना के बीच अगले तीन-चार दिनों में मौसम के मिजाज में बदलाव देखने को मिल सकता है।

वहीं पहाड़ी इलाकों से चल रही बर्फीली हवाओं का असर मैदानी क्षेत्रों पर साफ देखा जा रहा है। मैदानी इलाकों तेजी से दिन और रात के तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। Delhi NCR में ठंड का असर धीरे-धीरे दिखने लगा। हालांकि, अभी भी ठंड उतनी नहीं है जितनी दिसंबर के महीने में आमतौर पर होती है। Meteorological department के अनुसार दिल्लीवालों को अभी कड़कड़ाती ठंड के लिए इंतजार करना पड़ेगा।

इस बीच मैदानी इलाकों में सुबह-शाम को धुंध पड़ने और पहाड़ों में प्रातः काल पाला पड़ने की संभावना है। कई जगहों पर तो अभी से कोहरे की मार भी पड़ने लगी है। सुबह के समय कई इलाकों में कोहरे के कारण visibility काफी कम हो जाती है। जिससे यातायात काफी प्रभावित हो रहा है। कोहरे की सबसे ज्यादा मार लंबी दूरी की ट्रेनों पर भी पड़ रही है। कोहरे के कारण ट्रेनें भी लेट हो रही है। इससे यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

निजी मौसम पूर्वानुमान agency skymet weather के मुताबिक दक्षिण आंध्र प्रदेश, दक्षिण कर्नाटक, उत्तर आंतरिक तमिलनाडु, तेलंगाना, दक्षिण ओडिशा, विदर्भ, मराठवाड़ा और दक्षिण मध्य महाराष्ट्र के कई इलाकों में हल्की से भारी बारिश के आसार हैं। वहीं गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की बारिश के साथ हिमपात हो सकता है।

Related posts

uttarakhand के Brij Mohan Sharma को मिला अंतराष्ट्रीय अवार्ड,जानिए कौन है ये वैज्ञानिक

Newsdesk Uttranews

Almora- जिलाधिकारी वंदना सिंह ने बताई अपनी प्राथमिकताएं, मीडिया प्रतिनिधियों से की वार्ता

Newsdesk Uttranews

चमोली में बादल फटने से मजदूरों की झोपड़ियां मलबे में दबी, कर्णप्रयाग-ग्वालदम हाईवे हुआ बंद

Newsdesk Uttranews