कोरोना को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने ली बड़ी बैठक , राज्यों को अलर्ट रहने के साथ ही हर तीन महीने में मॉक ड्रिल करने के दिए निर्देश

उत्तरा न्यूज डेस्क
2 Min Read

देश में लगातार बढ़ रहें कोरोना के मामलों ने एक बाद फिर से चिंता बढ़ा दी है। जिसको लेकर बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के नेतृत्व में हाई लेवल की मीटिंग का आयोजन किया गया। इस मीटिंग में सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ ही राज्य सचिव भी मौजूद रहें। इस दौरान सभी राज्यों को अलर्ट मोड पर रहने के लिए कहा गया है।

बैठक के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि हम सभी को इससे डरने की नही बल्कि सर्तक रहने की आवश्यकता है।केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हर तीन महीने में एक बार सभी अस्पताल में मॉक ड्रिल की जाए। वही उन्होंने कहा कि केंद्र द्वारा राज्यो को पूरी सहायता दी जाएगी। . समीक्षा बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘अब एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करते हुए, “संपूर्ण सरकार” विजन के साथ काम करने का समय आ गया है। हमें सतर्क रहने की जरूरत है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है।

अस्पताल की तैयारियों की मॉक ड्रिल, निगरानी बढ़ाने और लोगों के साथ प्रभावी संचार के साथ तैयार रहना महत्वपूर्ण है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने भी सभी राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों से सर्दियों के मौसम के दौरान ठंड की स्थिति और आने वाले त्योहारी सीजन को देखते हुए निवारक उपाय सुनिश्चित करने का आग्रह किया। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, केरल में मंगलवार को कोविड-19 के 292 नए सक्रिय मामले आए और 3 संक्रमितों की मौत हुई.।

मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, बुधवार को सुबह आठ बजे तक देश भर में कोविड-19 के कुल 341 मामले सामने आए, जिसमें से 292 मामले केरल से है।

बैठक में असम, अरुणाचल, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, झारखंड, ओडिशा, गोवा, पुडुचेरी, तेलंगाना, कर्नाटक, मणिपुर, केरल सहित अन्य राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री शामिल हुए।

Joinsub_watsapp