उत्तरा न्यूज
अभी अभी पिथौरागढ़

Pithoragarh- सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूरी तरह प्रतिबंधित करने की तैयारी

पिथौरागढ़। सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ जिले में मुहिम तेज हो गई है। जनपद के तमाम विभागों को इसके इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए ठोस कदम उठाने के निर्देश जारी किए गए हैं। सिंगल यूज प्लास्टिक को जनपद में पूरी तरह से प्रतिबंधित करने को लेकर बुधवार को जिलाधिकारी डा.आशीष चौहान ने कलेक्ट्रेट सभागार में विभिन्न विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने अभियान चलाकर इसके इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगाने के निर्देश दिए।

कहा कि 75 माइक्रान से कम मोटाई वाले प्लास्टिक का इस्तेमाल किसी भी दशा में नहीं होना चाहिए। सिंगल यूज प्लास्टिक उत्पादों के विपणन और सप्लाई करने वालों पर पैनी नजर रखी जाए और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाकर चालान काटा जाए।

जिलाधिकारी ने जनपद में पर्यटक एवं सार्वजनिक स्थलों पर सफाई के लिए रोस्टर तैयार करने, चंडाक ट्रैक, थल केदार, बढाबे, मुन्स्यारी, चौकोड़ी, नारायण आश्रम, ओगला आदि क्षेत्रों में तत्काल सफाई अभियान चलाने को कहा और निर्देश दिए कि नगर क्षेत्रों में पालिका, ग्रामीण क्षेत्रों में जिला पंचायत, वन क्षेत्रों में वन विभाग तथा सड़क मार्गों पर संबधित संस्था इस अभियान के तहत कार्य करना सुनिश्चित करें। कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक का वैज्ञानिक तरीके से निस्तारण किया जाए। जगह जगह बिखरी शराब की बोतलों को एकत्रित करने के लिए शराब ठेकेदारों के माध्यम से कबाड़ी रखवाए जाएं।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनुराधा पाल, डीएफओ कोको रोसे, पुलिस उपाधीक्षक महेश चन्द्र जोशी, डीपीआरओ हरीश आर्या, अधिशासी अधिकारी पिथौरागढ़ दीपक गोस्वामी, अधिशासी अधिकारी गंगोलीहाट ईश्वर सिंह रावत आदि उपस्थित थे।


➡️सिंगल यूज प्लास्टिक क्या है-
प्लास्टिक से बने ऐसे उत्पाद जिसे हम एक बार इस्तेमाल करने के बाद दोबारा किसी उपयोग में नहीं ले सकते हैं। जैसे कैरी बैग, प्लास्टिक की पानी की बोतल, प्लास्टिक की बोतल के कैप, कप, प्लेट, डिस्पोजेबल प्रोडक्ट्स, खाने के खाली पैकेट, प्लास्टिक के किराना बैग, प्लास्टिक के पानी पौउच, प्लास्टिक के रैपर, स्ट्रॉ एवं अन्य प्रकार के प्लास्टिक बैग आदि।

➡️क्यों प्रतिबंध करना जरूरी-
दिन प्रतिदिन प्लास्टिक बैग हमारी जान के लिए खतरा बनते जा रहे हैं। आमतौर पर बनने वाले प्लास्टिक बैग को आकार देने के लिए जहरीले रसायनों का इस्तेमाल होता है जिनका असर हमारे स्वास्थ्य और प्रकृति दोनों पर पड़ता है। इसकी वजह से कैंसर जैसी भयानक बीमारियां भी उत्पन्न होने लगी हैं।

➡️इसके स्थान पर क्या प्रयोग करें-
बाजार जाते समय अपने घर से अपना थैला लेते जाएं ना कि बाजार से प्लास्टिक की पॉलीथिन में सामान लेकर आएं। प्लास्टिक की खरीद पर बैन लगाने के लिए हर किसी को जागरूक करें और ऐसे उत्पादों को खरीदने का विरोध करें। प्लास्टिक के बैग की जगह कपड़े का बैग या कागज का बैग का इस्तेमाल करें।

Related posts

Job- अल्मोड़ा में यहां करें नौकरी के लिए आवेदन

editor1

अल्मोड़ा में पेयजल (Drinking water) आपूर्ति नहीं होने से नाराज ग्रामीणों के दबाव के बाद गांव पहुंचे पेयजल विभाग के अधिकारी

Newsdesk Uttranews

दिल्ली के जंतर मंतर पर कांग्रेस का सत्याग्रह, अग्निपथ व राहुल ईडी मुद्दे पर सरकार पर निशाना

Newsdesk Uttranews