News-web

जाने किस राज्य में किसको मिली कितनी सीटे, यह है लोकसभा चुनाव का फाइनल रिजल्ट

Published on:

लोकसभा चुनाव 2024 का रिजल्ट अब घोषित हो गया है। बीते दो चुनाव के मुकाबले इस बार चुनाव में सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के बीच काफी कड़ा मुकाबला रहा।भाजपा के नेतृत्व वाला एनडीए जहां 292 सीट पर जीत हासिल करने में कामयाब रहा वहीं विपक्षीय गठबंधन इंडिया के खाते में 234 सीटें आईं।

17 सीटों पर अन्य लोगों ने जीत हासिल की। इस बार किसी एक पार्टी को बहुमत प्राप्त नहीं हुआ। 2014 और 2019 के चुनाव में कमाल का प्रदर्शन करने वाली भाजपा इस बार 272 के आंकड़े को नहीं छू पाई। आपको बता दे की भाजपा को सबसे अधिक सीटे मिली है। उसे 240 सीटों पर जीत मिली। वहीं कांग्रेस दूसरे नंबर पर रही मल्लिका अर्जुन नेतृत्व वाली इस पार्टी को 99 सीटें पर जीत हासिल हुई।

सपा ने 37 सीटों पर अपनी जीत दर्ज की। वहीं ममता बनर्जी की टीएमसी को 29 सीटों पर जीत मिली। वहीं तमिलनाडु की पार्टी डीएमके के खाते में 22 सीटे आई। चंद्रबाबू नायडू की पार्टी TDP के लिए यह चुनाव जबरदस्त रहा। एक तो प्रदेश में भी वो सरकार बना रही है तो वहीं उसने 16 लोकसभा सीटों पर भी जीत दर्ज की।

नीतीश कुमार की पार्टी  जदयू के खाते में 12 सीटें आई। वहीं, शिवसेना (यूबीटी) के खाते में 9 सीटें आई। शरद पवार की NCP को 8 सीटें मिलीं। एकनाथ शिंदे की शिवसेना को 7 सीटों पर जीत मिली। इसके अतिरिक्त एलजेपी (रामविलास पासवान) के खाते में 5 सीटें आईं। वहीं, YSRCP को 4 सीटों पर जीत हासिल हुई। लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। उसे बिहार में केवल 4 सीटों पर जीत मिली।
सीपीआई( एम) के खाते में 4 सीटें आई हैं।

किस प्रदेश में किसको कितनीं सीटें मिलीं?

अंडमान की एकमात्र सीट पर भाजपा को ही जीत मिली।

दिल्ली की सभी 7 सीटों पर भाजपा ने दर्ज की।

आंध्र प्रदेश में लोकसभा की 25 सिम हैं इसमें से टीडीपी ने 16, YSRCP ने 4, भाजपा ने 3 एवं जनसेना ने 2 सीट पर जीत हासिल की।

अरुणाचल प्रदेश में भाजपा ने दो सीटों पर जीत हासिल की।

असम में भाजपा के खाते में 9, कांग्रेस के खाते में 3, यूपीपीएल के खाते में 1 और एजीपी के खाते में 1 सीट आई।

बिहार में लोकसभा की 40 सीटें हैं। इसमें से जेडीयू ने 12, बीजेपी ने 12, एलजेपी (रामविलास पासवान) ने 5, आरजेडी ने 4, कांग्रेस ने 3, सीपीआई (एमल) (एल) ने 2, 1 पर निर्दलीय एवं 1 पर जीतनराम मांझी की हम ने जीत हासिल की।

चंडीगढ़ सीट पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की।

छत्तीसगढ़ में भाजपा को 10 और कांग्रेस को एक सीट पर जीत मिली।

दादर और नगर हवेली में भाजपा ने 1 और 1 पर निर्दलीय ने जीत हासिल की।

गोवा में लोकसभा की दो सीटें हैं, जिसमें से 1 पर भाजपा एवं 1 पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की।

गुजरात में भाजपा ने 25 एवं कांग्रेस ने 1 सीट पर जीत हासिल की।

हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों में से 5 पर कांग्रेस और 5 पर बीजेपी ने दर्ज की।

हिमाचल प्रदेश की सभी 4 सीटों पर भाजपा को जीत मिली है।

जम्मू कश्मीर में भाजपा को 2 और एनसी को 2 सीटों पर जीत मिली। 1 सीट पर निर्दलीय को जीत मिली है।

झारखंड में लोकसभा की 14 सीटें हैं. इसमें से 8 पर भाजपा , 3 पर JMM, 2 पर कांग्रेस और 1 पर AJSUP को जीत मिली।

कर्नाटक में लोकसभा की कुल 28 सिम हैं जिसमें 17 पर भाजपा को 9 पर कांग्रेस को और दो पर जेडीएस ने जीत हासिल की।

केरल की 20 लोकसभा सीटों में से 14 पर कांग्रेस, 2 पर IUML, 1 पर सीपीआई (एम), 1 पर RSP, 1 पर बीजेपी और 1 पर केईसी ने जीत दर्ज की।

लद्दाख में निर्दलीय प्रत्याशी ने जीत दर्ज की।

लक्षद्वीप में कांग्रेस को जीत मिली है।

मध्य प्रदेश में भाजपा ने क्लीन स्वीप किया यहां पर सभी 29 सीटों पर भाजपा ने बाजी मारी।

महाराष्ट्र में कांग्रेस ने 13, भाजपा ने 9, शिवसेना (यूबीटी) ने 9, शरद पवार की एनसीपी ने 8, एकनाथ शिंदे की पार्टी शिवसेना ने 7, अजित पवार की एनसीपी ने 1 और 1 पर निर्दलीय ने जीत हासिल की।

मणिपुर की दो लोकसभा सीटों पर कांग्रेस ने जीत हासिल की।

मेघालय में लोकसभा की 2 सीटें हैं। यहां पर वायस ऑफ द पीपुल पार्टी को 1 और कांग्रेस को 1 सीट पर जीत मिली।

मिजोरम की 1 लोकसभा सीट पर जेपीएम को जीत मिली है।

नगालैंड की 1 सीट कांग्रेस के खाते में गई है।

ओडिशा में भाजपा ने 20 और कांग्रेस ने 1 सीट पर जीत हासिल की।

पुडुचेरी में एकमात्र लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की।

पंजाब में कांग्रेस ने 7, आप ने 3, शिरोमणि अकाली दल ने 1 और 2 पर निर्दलीय ने जीत दर्ज की।

राजस्थान में भाजपा ने 14 कांग्रेस ने 8 सीपीआई (एम) ने 1, आरएलटीपी ने 1 और Bharat Adivasi Party ने 1 सीट पर जीत दर्ज की।

सिक्किम में लोकसभा की 1 सीट और इसपर सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने जीत दर्ज की।

तमिलनाडु में डीएमके ने 22, सीपीआई ने 2, सीपीआई (एम) ने 2, MDMK ने 1, वीसीके ने 1 और कांग्रेस ने 9 सीटों पर दर्ज की।

तेलंगाना में भाजपा ने 8, कांग्रेस ने 8, AIMIM ने 1 सीट पर दर्ज की।

त्रिपुरा में लोकसभा की 2 सीटें हैं और सभी पर भाजपा ने जीत हासिल की।

वहीं अगर उत्तर प्रदेश की बात की जाए तो सपा ने 37, भाजपा ने 33,कांग्रेस ने 6, आरएलडी ने 2, Aazad Samaj Party ने 1 और Apna Dal (Soneylal) ने 1 सीट पर जीत दर्ज की।

उत्तराखंड में भाजपा ने क्लीन स्वीप किया. उसे सभी 5 सीटों पर जीत मिली है।

पश्चिम बंगाल में लोकसभा की 42 सीटें हैं. इसमें से TMC को 29, भाजपा को 12, कांग्रेस को 1 सीट पर जीत मिली।