उत्तरा न्यूज
अभी अभी

Almora- जिला पंचायत सदस्य महेश नयाल ने कसून सहित सभी गांवों में पीने के पानी की टेस्टिंग की मांग उठाई

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

Demand for testing of drinking water in all villages including Kasoon

जिला पंचायत सदस्य महेश नयाल ने कसून गांव में एक बच्चे की उल्टी -दस्त के बाद हुई मौत पर गहरा दुःख जताया है।
उन्होंने जिलाधिकारी से मुलाकात कर कसून और आस पास के गांवों में पीने के पानी का अबिलंब परीक्षण की मांग (testing of drinking water)की है।

अल्मोड़ा, 05 अगस्त 2022- जिला पंचायत सदस्य महेश नयाल ने कसून गांव में एक बच्चे की उल्टी -दस्त के बाद हुई मौत पर गहरा दुःख जताया है।
उन्होंने जिलाधिकारी से मुलाकात कर कसून और आस पास के गांवों में पीने के पानी का अबिलंब परीक्षण(testing of drinking water) की मांग की है।


उन्होंने कहा कि बीते 4 अगस्त 2022 को विकासखंड हवालबाग के ग्राम कसून में एक 8 वर्षीय बालक की मृत्यु उल्टी दस्त के कारण हुई है जिससे पूरा क्षेत्र सदमे में है गांव वालों का कहना है कि एक दिन पहले दस्त के कारण बालक का स्वास्थ्य खराब था, गांव में अन्य लोगों का भी पेचिश, पेट दर्द, बुखार के कारण स्वास्थ्य खराब है,
कसून गांव के साथ ही अन्य गांव में भी वायरल फैला हुआ है।

प्रशासन की टीम पहुंची गांव

जिला पंचायत सदस्य महेश नयाल ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग से बात करने के बाद स्वास्थ्य परीक्षण की टीम आज कसून गांव पहुंची है।
उन्होंने कहा कि उन्होंने जिलाधिकारी अल्मोड़ा को पत्र देकर कसून गांव के साथ ही अन्य गांवो में अति शीघ्र स्वास्थ्य परीक्षण की टीम भेजने एवं गांव में उल्टी दस्त बुखार की दवा बटवाने की मांग की और कहा कि क्षेत्र के सभी विद्यालयों में स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए,विद्यालयों की पेयजल टैंको में सफाई एव पेयजल शुद्धता हेतु आवश्यक दवाइया डाली जाय, विद्यालयों एव गांवो में प्राथमिक उपचार व दवाइयां वितरण की जाय।
उन्होंने ग्राम कसून सहित क्षेत्र के सभी गांवो में पेयजल की टेस्टिंग की भी मांग (testing of drinking water)की।

एक वर्ष से टूटा है कसून गांव का वाटर फिल्टर


उन्होंने कहा कि ग्राम कसून का पेयजल टैंक का फिल्टर पिछले एक वर्ष से टूटा है
जिस कारण गांव वाले बिना फिल्टर का पानी पी रहे है,जिससे गांव में पेट संबंधी बीमारियां फैल रही हैं,
ग्राम कसून पेयजल का फिल्टर टैंक बहुत लंबे समय से टूटा है उसका निर्माण अतिशीघ कराया जाए।

महेश नयाल ने बताया कि जिलाधिकारी ने जल संस्थान, स्वास्थ्य विभाग एवं आपदा की टीम को निर्देशित किया कि अतिशीघ्र गांव का निरीक्षण किया जाए,पानी की जांच सहित आवश्यक कार्य कराने के निर्देश दिए हैं।

Related posts

आपातकाल के कड़वे अनुभव याद किए

जनवरी 2023 में आयोजित होगी यूएई इंटरनेशनल टी20 लीग

Newsdesk Uttranews

आंध्र प्रदेश : पबजी में हारने और दोस्तों के मजाक उड़ाने पर लड़के ने कर ली खुदकुशी

Newsdesk Uttranews