tuberculosis workshop

अल्मोड़ा, 12 अक्टूबर 2020— टीबी उन्मूलन के लिए लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय शीतलाखेत में टीबी कार्यशाला (tuberculosis workshop) का आयोजन किया गया। जिसमें उपस्थित समुदाय को टीबी रोग के प्रति जागरुक किया गया।

Pithoragarh- जीआईसी शैलकुमारी में एनएसीसी विस्तार प्लान की शुरूआत


कार्यक्रम में प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. दीपिका धर्मशक्तू ने टीबी उन्मूलन हेतु टीबी रोग (tuberculosis workshop) के उन्मूलन के लिए सरकार द्वारा सरकारी और गैरसरकारी संगठनों के साथ मिलकर टीबी लक्षण रोगियों को चिह्नि​त कर नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में भेजने को प्रेरित करने के लिए कहा।

tuberculosis workshop
लोगों को क्षय रोग (tuberculosis workshop) के प्रति किया जागरुक शीतलाखेत में आयोजित हुई कार्यशाला 2

कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ स्वास्थ्य पर्यवेक्षक आनंद सिंह मेहता ने किया। उन्होंने टीबी के लक्षण और टीबी रोगी (tuberculosis workshop) को निक्षय पोषण योजना के तहत 500 रुपये प्रतिमाह और शुरुआती हफ्ते में 1000 रुपये सीधे मरीज के खाते में भेजे जाने की जानकारी दी। कहा कि जांच और उपचार निशुल्क होता है और इससे निवृत्त होने में 5 से 6 महीने तक का समय लगता है।

इस मौके पर कनिष्ठ ब्लॉक प्रमुख पुष्कर नेगी, चंपा देवी, व्यापार मंडल अध्यक्ष गणेश चन्द्र पाठक, शीला देवी, आंगनबाड़ी वर्कर चंपा रौतेला, राधा, कमला देवी, मंजू जीना, प्रेमा मेहता, फार्मासिस्ट दीपिका, लैब टैक्निीशियन भरत सिंह राणा, विजय सिंह ग्वाल, गौरव मनराल, जगदीश लाल, गणेश पाठक, कैलाश गोस्वामी आदि मौजूद थे।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/