shishu-mandir

अल्मोड़ा की मालरोड बनी बदहाल रोड, बारिश में दलदल में हुई तब्दील, बामुश्किल गुजरे वाहन

editor1
4 Min Read
Screenshot-5

new-modern
holy-ange-school

Almora’s Mall Road became a bad road, turned into a swamp in the rain

अल्मोड़ा, 02 मार्च 2024- अल्मोड़ा की मालरोड हल्की बारिश में ही बदहाल रोड में तब्दील हो गई।

gyan-vigyan


बारिश के चलते सीवर कार्य के लिए खोदी गई सड़क दलदल में बदल गई जिससे स्थानीय लोगों एवं वहां से निकलने वाले वाहन चालकों सहित व्यापारियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

Screenshot 2024 0302 171329

लोगों ने जताई नाराजगी अधिकारियों को मौके पर बुलाया


सूचना मिलने पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक सहित लोग मौके पर पहुंचे और लोक निर्माण विभाग सहित पेयजल निगम के अधिकारियों को मौके पर बुलाया।
बिट्टू कर्नाटक का स्पष्ट आरोप था कि दो माह बीत जाने के बाद भी पेयजल निगम के द्वारा सीवर लाइन का कार्य पूरा नहीं किया गया एवं सड़क लोक निर्माण विभाग को हस्तांतरित नहीं की गई जिसके कारण आज सड़क बेहद दयनीय दशा में है। जिसका खामियाजा लगातार यहां की स्थानीय जनता,व्यवसायी और यहां से गुजरने वाले लोग भुगत रहे हैं।विदित हो कि दो माह पूर्व यहां पर कार्यदाई संस्था पेयजल निगम के द्वारा सीवर लाइन का निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया था जिसे विभाग द्वारा एक माह में पूर्ण कर लेने की बात की गई थी लेकिन आज दो माह बीत जाने के बाद भी जल निगम के द्वारा लोक निर्माण विभाग को सड़क हस्तांतरित नहीं की गई है।
सड़क में फैली मिट्टी,गड्ढे और कीचड़ से आए दिन यहां लोग चोटिल हो रहे हैं। कर्नाटक ने कहा कि जल निगम विभाग की लापरवाही से विगत दो माह से यहां के व्यापारियों का व्यापार बिल्कुल चौपट है और वह बिल्कुल बेरोजगार हो चुके हैं लेकिन संबंधित विभागों के अधिकारी मूकदर्शक बने बैठे हैं।उन्होंने कहा कि कार्यदायी संस्था एवं संबंधित ठेकेदार की लापरवाही के कारण यहां पर पूर्व में एक व्यक्ति की मौत भी हो चुकी है लेकिन उसके बाद भी जल निगम विभाग नहीं चेता। उन्होंने कहा कि यदि विभाग ने उक्त कार्य का सही ढंग से आकलन कर कार्य किया होता तो आज स्थानीय जनता को इसका खामियाजा न भुगतना पड़ता।

एक सप्ताह का दिया अल्टीमेटम

उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट चेतावनी देते हुए कहा कि यदि एक सप्ताह के भीतर इस सड़क की हालत नहीं सुधरी तो वे संबंधित विभाग के खिलाफ उग्र आंदोलन करने को बाध्य होंगे।मौके पर पहुंचे लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता ने कहा कि अभी पेयजल निगम के द्वारा सड़क लोक निर्माण विभाग को हस्तांतरित नहीं की गई है जिस कारण लोक निर्माण विभाग कोई कार्यवाही नहीं कर पा रहा है।पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता ने बताया कि उनके द्वारा एक सप्ताह में सड़क का सुधारीकरण कर सड़क लोक निर्माण विभाग के सुपुर्द कर दी जाएगी।

स्थानीय लोगों ने भी सुनाई खरीखोटी


इस अवसर पर स्थानीय लोगों ने कहा कि दो माह से सड़क अपनी जर्जर हालत में है लेकिन किसी भी जनप्रतिनिधि अथवा विभागीय अधिकारी के द्वारा अभी तक इसका कोई संज्ञान नहीं लिया गया जिससे व्यापारियों का व्यापार चौपट हो चुका है और यहां निवास करने वाले लोगों के घरों में मिट्टी का अंबार लग चुका है लेकिन विभाग अभी भी गहरी नींद में सोया हुआ है।

यह लोग रहे मौजूद


पूर्व दर्जामंत्री बिट्टू कर्नाटक के साथ देवेन्द्र कर्नाटक,हेम जोशी, हिमांशु कनवाल,हसन कर्नाटक,एन डी पाण्डेय,प्रकाश मेहता,शमशाद अहमद,दीवान गोनी,दिनेश पाण्डेय, अभिषेक तिवारी,भुवन जोशी,राकेश जोशी सहित पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता संजीव वर्मा,लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता दीप चन्द्र पाण्डे,अवर अभियंता जल निगम दीपक जोशी,अवर अभियंता लोक निर्माण विभाग सैनी सहित दर्जनों लोग उपस्थित रहे।