उत्तरा न्यूज
अभी अभी देश

अजीबोगरीब मंदिर: भारत में यहां होती है डायन की पूजा, बिना भेंट चढ़ा है आगे बढ़े तो करना पड़ता है परेशानियों का सामना

भारत में कई अलग देवी देवताओं को पूछा जाता है और ढेरों भेंट चढ़ाई जाती है। देश में चमत्कारिक ऐतिहासिक मंदिरों के अलावा अजीबोगरीब मंदिरों की भी कमी नहीं है। देवी देवताओं के अलावा कई ऐसे मंदिर है जहां कहीं चूहों की तो कहीं बाइक की पूजा की जाती है। ऐसा ही एक अजीबोगरीब मंदिर छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में है। यह जानकर आप हैरान रह जाएंगे कि इस मंदिर में डायन की पूजा की जाती है। इतना ही नहीं इस मंदिर में दान के दर्शन करने के लिए दूर-दूर से श्रद्धालु आते हैं।

200 साल पुराना है ये मंदिर

बालोद जिले में ये मंदिर गुंडरदेही विकासखंड के ग्राम झींका में सड़क किनारे बना हुआ है और यह करीब 200 साल पुराना है जिसे परेतिन देवी मंदिर के नाम से जाना जाता है। यहां प्रेतिन को स्‍थानीय भाषा में लोग परेतिन कहते हैं। यहां के लोग कहते हैं कि पहले यहां मंदिर के नाम पर केवल चबूतरा हुआ करता था। लोगों ने मंदिर बनाने के लिए ईंटें दान कीं और उन्‍हीं ईंटों से यह मंदिर बनाया गया है। नवरात्रि में यहां अच्‍छा-खासा उत्‍सव मनाया जाता है और लोग दूर-दूर से यहां दर्शन करने के लिए आते हैं। ऐसी मान्‍यता है कि इस मंदिर में मांगी गई हर मन्‍नत पूरी होती है।

nitin communication

हर राहगीर को चढ़ानी होती हैं भेंट

यह मंदिर सड़क के किनारे ही बना हुआ है। इसके सामने से गुजरने वाले सभी वाहन चालक मंदिर में कुछ भेंट चढ़ाकर ही आगे बढ़ते हैं। खासतौर पर मालवाहक वाहनों के चालक इस परंपरा का सख्‍ती से पालन करते हैं। कहा जाता है कि अगर ऐसा नहीं किया तो उन्‍हें रास्‍ते में परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। इसके अलावा शादी-विवाह, मुंडन या तीर्थ यात्रा जैसे शुभ कार्यों के लिए निकलने वाले लोग भी यहां पर भेंट चढ़ाकर आर्शीवाद लेते हैं।

Related posts

गजब : अल्मोड़ा में शराब के ओवर रेट की शिकायत के बाद आबकारी विभाग ने दिखावे के लिए की कार्रवाई, रेट लिस्ट फिर हुई गायब

Newsdesk Uttranews

pithoragarh -पुण्यतिथि पर बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर को किया याद

Newsdesk Uttranews

Renewable Energy Is The New Synergy To Deepen India-Dubai Collaboration

Newsdesk Uttranews
error: Content is protected !!