uttarakhand

Uttarakhand: retirement se pehle saheed huwa uttarakhand ka lal

काशीपुर, 15 दिसंबर 2020
उत्तराखंड (Uttarakhand) को यूं ही वीरभूमि नहीं कहा जाता। न जाने कितने जाबांजों ने देश रक्षा के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए। उत्तराखंड का एक और लाल देश के लिए शहीद हो गया।

9 कुमाउं रेजीमेंट में हवालदार के पद पर तैनात काशीपुर के ग्राम नंदरामपुर निवासी हवालदार मुकेश कुमार का 4 अप्रैल 2021 में रिटायरमेंट था। वह पिछले 3 साल से अरुणांचल प्रदेश के बोमडिला इलाके में तैनात थे।

लंबे समय तक देश सेवा करने के बाद उनके वापस घर लौटने को लेकर परिजनों में खुशी का माहौल था। दो बेटे बेसब्री से अपने पिता का इंतजार कर रहे थे। लेकिन रविवार की दोपहर मुकेश के बड़े बेटे विशाल (18) को यूनिट के अधिकारियों ने मुकेश के बड़े पुत्र विशाल को सूचना दी कि उनके पिता की हालत गंभीर है, करीब आधे घंटे बाद यूनिट से उनके पिता की शहादत की खबर दी। जिससे परिवार की खुशियां पल भर में मातम में बदल गई।

मूल रूप से उत्तर प्रदेश के जिला मुरादाबाद के थाना डिलारी का रहने वाले मुकेश पिछले 10 सालों से काशीपुर के ग्राम नंदरामपुर में मकान बनाकर रह रहे थे। मुकेश के परिवार में उनकी पत्नी नीलम व दो बेटे विशाल (18) व ऋषभ (15) है।

बधाई- एशिया (Asia)की टाॅप 6 यूनिविर्सिटी में एसोसिएट प्रोफेसर बने अल्मोड़ा के तरुण बेलवाल

परिजनों के मुताबिक मुकेश रिटायरमेंट के बाद खुद का कारोबार शुरू करने वाले थे। हवालदार मुकेश के मौत के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है।


मुकेश का शव आज यानि मंगलवार रात या बुधवार सुबह तक उनके घर पहुंचने की संभावना है। इस दुखद घटना से मृतक के घर समेत पूरे क्षेत्र में मातम पसरा हुआ है।

हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें