उत्तराखण्ड ब्रेकिंग— दम्पत्ति ने आत्महत्या कर अपनी जीवनलीला कर ली समाप्त, मां और पिता की लाश के बीच कई दिन से रोता बिलखता रहा 5 माह का बच्चा

Newsdesk Uttranews
3 Min Read

देहरादून में एक दंपत्ति ने कर्ज न चुकाने पर आत्महत्या कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। तीन दिन तक लाश कमरे में पड़ी रही। पति पत्नी की लाश के बीच 5 दिन का बच्चा भी लेटा हुआ था। लाश के तीन दिन होने के चलते बदबू भी आने लगी थी।


एक रिपोर्ट के मुताबिक यह मामला देहरादून टर्नर रोड का है। पुलिस अधिकरियो ने बताया कि 13 जून को कंट्रोल रूम को जानकारी मिली कि टर्नर रोड पर स्थित एक मकान के कमरे से बदबू आ रही है। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुँची और कमरे का दरवाजा तोड़कर देखा तो कमरे में दो लाश पड़ी हुई थी। जानकारी मिली की एक मकान पर सहारनपुर का कासिफ नाम का व्यक्ति अपनी पत्नी के साथ बीते 4 महीने से रह रहा था। दोनों ने आत्महत्या कर ली। लाश के बीच में एक 5 माह का बच्चा भी लेटा हुआ था बच्चा अभी जीवित है। पुलिस ने बच्चे को उपचार के लिए दून अस्पताल भेज दिया है। दम्पति ने आत्महत्या की है जिनकी लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।


सूचना के मुताबिक दम्पत्ति के परिजन देहरादून पहुँच गए है। उन्होंने बताया कि एक वर्ष पूर्व काशिफ ने अनम से दूसरा निकाह किया था। काशिफ का पहली पत्नी से एक 5 साल बच्चा है। कासिफ की पहली पत्नी पहली पत्नी ने बताया कि कासिफ कई दिनों से उसका फोन नही उठा रहा था। फोन न उठाने पर पहली पत्नी टेंशन में आ गई जिसके बाद वह कासिफ से मिलने देहरादून आई और यहां देखा कि कमरे का दरवाजा बंद था जिसकी सूचना उसने पुलिस को दी।
वही पहली पत्नी के अनुसार उनके पति ने उसे 1 से 2 दिन में गांव वापस आने की बात कही थी और बताया था कि किसी से उन्होंने 5 लाख रूपये कर्ज लिया था और वह वापस लेने के लिए तगादा कर रहा था। रकम वापस करने के लिए उसके पति ने 10 जून तक का समय मांगा था और इससे पहले भी दो बार रकम वापस देने के लिए समय लिया था लेकिन रकम वापस नही कर सके।
देहरादून पुलिस का कहना है कि मृतकों के परिजनों से पूछताछ और शुरुआती जांच के बाद ऐसा ​लग रहा है कि काशिफ और अनम ने आत्महत्या की है। कहा कि इस मामले में जांच चल रही है। जांच पूरी होने के बाद ही सही कारणों का पता चल पाएंगा।

Joinsub_watsapp