News-web

छात्रा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, लेकिन पुलिस ने जांच से किया इनकार

Published on:

student committed suicide by hanging herself but the police refused to investigate, the family said she was worried about the exam

दौसा जिले के रामगढ़ पचवारा में बीएसटीसी की एक छात्रा ने खुदकुशी कर ली है छात्र 19 जून को प्रयागराज से बीएसटीसी की परीक्षा देखकर अपने गांव वापस आई थी दौसा जिले के लालसोट के रामगढ़ पचवारा थाना इलाके में रात को एक छात्रा ने अपने कमरे में स्कार्फ से फांसी लगा ली।

इसके बाद जल्दबाजी में परिजन उसे रामगढ़ पचवारा अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत्यु घोषित कर दिया रामगढ़ पचवारा थाना पुलिस ने अमृत का सुनीता मीणा के सब का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को दे दिया है पुलिस का कहना है कि फिलहाल परिजनों ने किसी प्रकार की कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई है।


रामगढ़ पचवारा थाना के उपनिरीक्षक हंसराम में बताया कि छात्रा कि रात के समय अपनी मां और बहन के साथ कमरे में सो रही थी। रात करीब ढाई बजे लाइट चली गई, गर्मी होने के कारण बड़ी बहन और मां बाहर बरामदे में आकर सो गए। इस दौरान छात्रा कमरे में अकेली सोती रही। करीब 1 घंटे बाद लाइट आने पर बहन कमरे में गई तो उसने छोटी बहन को फांसी के फंदे पर लटका देखा।


बताया जा रहा है की मृत्यु का सुनीता की उम्र 18 वर्ष थी वह अपने भाई के साथ प्रयागराज से बीएसटीसी की पढ़ाई कर रही थी 15 जून को वह प्रयागराज गई थी और 19 जून को पेपर देकर लालसोट वापस आई थी मृत्यु का के परिजनों का कहना है कि सुनीता एग्जाम को लेकर काफी डिप्रेशन में थी जिसके चलते उसने खुदकुशी कर ली रामगढ़ पचवारा थाना पुलिस को परिजनों ने बताया कि वो इस मामले में किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं चाहते हैं।