News-web

ऋषिकेश एम्स अस्पताल की जगह बना अखाड़े का अड्डा दो डॉक्टरों के बीच हुई जमकर लड़ाई, जाने पूरा मामला

Published on:

ऋषिकेश एम्स में डॉक्टर और महिला नर्सिंग ऑफिसर के बीच हाथापाई हुई जिसके बाद एम्स इलाज की जगह अखाड़े का अड्डा नजर आया। ऋषिकेश एम्स एक बार फिर विवादों में घिर गया है। इस बार विवाद डॉक्टर और महिला नर्सिंग अफसर के बीच हाथापाई को लेकर हुआ है। मरीज देखने को लेकर डॉक्टर और नर्सिंग अफसर के बीच पहले तो बहस बाजी हुई और फिर डॉक्टर आक्रामक हो गई जिसके बाद उन्होंने नर्सिंग अफसर पर हमला कर दिया आरोप है कि डॉक्टर ने नर्सिंग अफसर को थप्पड़ मारा।

एआईआईएमएस ऋषिकेश स्वास्थ्य सेवाओं के साथ-साथ विवादों से घिरता जा रहा है। एआईआईएमएस ऋषिकेश में हर दो चार दिन में कोई ना कोई बवाल लगातार सुर्खियों में छाया रहता है, जिससे इस अस्पताल की छवि भी धूमिल होती जा रही है। यहां बीते 20 मई को नर्सिंग ऑफिसर और महिला चिकित्सक के बीच विवाद हुआ था इसके बाद दोनों पक्षों की ओर से हड़ताल हुई थी।किसी तरह मामला सुलझाया गया था लेकिन यह यह मामला थमता नजर नहीं आ रहा है।

शनिवार की शाम एक डाक्टर औ रमहिला नर्सिंग आफिसर के बीच फिर विवाद हो गया। आरोप है कि रुद्रप्रयाग हादसे में घायलों के लिए आपरेशन थिएटर को खाली कराया जा रहा था। इसी बीच दोनों पक्षों के बीच विवाद हुआ और नाराज डाक्टर और ड्यूटी पर तैनात महिला नर्सिंग आफिसर के बीच हाथपाई होती दिखाई दें रही हैं.उसके बाद दोनों के बीच खूब कहा सुनी हुई। घटना का किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

संस्थान को शर्मसार करने वाली इस घटना को लेकर नर्सिंग आफिसर्स के संगठन ने एम्स प्रशासन से कार्रवाई की मांग की है, ऐसा न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी गई है। एम्स प्रशासन की ओर से फिलहाल संबंधित सीनियर रेजिडेंस को निलंबित कर दिया गया है। एम्स की जनसंपर्क अधिकारी संदीप कुमार ने बताया की घटना से संबंधित वीडियो की जांच की गई है, प्रथम दृष्टया एम्स प्रशासन की ओर से आरोपी सीनियर रेजिडेंस को निलंबित कर दिया गया है।