shishu-mandir

प्रतिभा सिंह ने बीजेपी को लेकर कहीं ऐसी बात की मच गई हलचल, बढ़ा हिमाचल का सियासी संकट

Smriti Nigam
3 Min Read
Screenshot-5

Pratibha singh statement:हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के अंदर अब बगावत उपज रही है जहां हिमाचल का सियासी संकट बढ़ रहा है। वहीं अब कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह का बयान कांग्रेस पार्टी की टेंशन बढ़ा रहा है। प्रतिभा सिंह ने भाजपा के काम को बेहतर बताया है।

new-modern
holy-ange-school

Himachal pradesh:हिमाचल में चुनाव के बाद अब कांग्रेस में बगावत हो रही है और इसी सियासी संकट के बीच प्रतिभा सिंह ने भाजपा के लिए कुछ ऐसा कह दिया है जिसके बाद कांग्रेस की टेंशन बढ़ गई है। लोकसभा चुनाव की तैयारी के बीच प्रतिभा सिंह ने कहा कि भाजपा का काम हमसे बेहतर है। लोकसभा चुनाव पर हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,” कांग्रेस में हमें अभी भी बहुत कुछ करना बाकी है। सांसद के तौर पर मैंने अपने निर्वाचन क्षेत्र का दौरा बार-बार किया और लोगों की समस्याओं को जानने की कोशिश की लेकिन यह सच है कि भाजपा की कार्यप्रणाली हमसे बेहतर है।”

gyan-vigyan

प्रतिभा ने यह भी कहा कि,” मैं पहले दिन से ही मुख्यमंत्री से कह रही थी कि हम आगामी चुनाव का मुकाबला तभी कर पाएंगे जब हमारा संगठन मजबूत होगा। यह हमारे लिए कठिन परिस्थिति है। हम जमीनी स्तर पर बहुत सारी कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुसार भाजपा बहुत कुछ करने जा रही है। हम वहां कमजोर हैं। मैंने उनसे बार-बार कहा कि हमें मजबूत होने की जरूरत है और पार्टी को संगठित करने की भी जरूरत है। मैं कह सकती हूं कि यह एक बेहद कठिन समय है। फिर भी हमें चुनाव लड़ना और जितना होगा।

यह पूछे जाने पर की लोकसभा चुनाव में हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के प्रचार के लिए कौन आगे आएगा, सुक्खु या वह खुद? इस पर प्रतिभा ने कहा कि,” यह कहना तो मुश्किल है। यह तय करना मेरा काम नहीं है। मैं एक कार्यकर्ता हूं। एक मौजूदा सांसद की तरह जाऊंगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में संगठन और कार्यकर्ताओं को मजबूत करना मेरी जिम्मेदारी है और मैं इसी का प्रयास कर रही हूं।”

उनसे पूछा गया कि ,”क्या वह अयोग्य ठहराए गए 6 कांग्रेस विधायकों से मिलेगी?” हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,” फिलहाल वह कड़ी सुरक्षा में है इसलिए उनसे मिलना आसान नहीं है। मैं उनसे संपर्क नहीं कर पा रही हूं और उनके फोन भी स्विच ऑफ हैं। पूरे इलाके को घेर लिया गया है। आप उनसे बात नहीं कर सकते। आप उनसे मिल भी नहीं सकते। यह सब आसान नहीं है। अब आगे देखते हैं कि क्या होता है?”