पिथौरागढ़ होकरा एक्सीडेंट अपडेट- 10 शव हुए बरामद,मजिस्ट्रियल जांच के आदेश जारी

Newsdesk Uttranews
3 Min Read
News

पिथौरागढ़। जनपद पिथौरागढ़ के तेजम तहसील क्षेत्र के होकरा इलाके में बृहस्पतिवार सुबह एक दर्दनाक सड़क हादसे में 10 लोगों की मौत हो गई। सभी मृतक बागेश्वर जिले की कपकोट तहसील क्षेत्र के रहने वाले थे, जो बागेश्वर के शामा क्षेत्र से पूजा के लिए जनपद पिथौरागढ़ स्थित होकरा माता मंदिर जा रहे थे। मृतकों में एक भारतीय सेना में कार्यरत जवान और दो लोग भारतीय सेना से सेवानिवृत्त हैं, जबकि एक महिला सहित तीन लोग एक ही परिवार के शामिल हैं। हादसे के बाद जिलाधिकारी पिथौरागढ़ ने भी घटनास्थल पर जाकर राहत बचाव कार्य का जायजा लिया और घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं।


जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार सुबह पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिले की सीमा पर स्थित शामा क्षेत्र के लोग एक बोलेरो वाहन संख्या यूके 02 टीए 845 से पूजा के लिए पिथौरागढ़ की तेजम तहसील स्थित होकरा माता मंदिर जा रहे थे। इसी दौरान करीब 9 बजे के आसपास होकरा से पांच सौ मीटर पहले खाद्यान्न गोदाम के नज़दीक संकरी सड़क पर अनियंत्रित होकर बोलेरो वाहन गहरी खाई की ओर पलट गया, और लुढ़कते हुए करीब 500 मीटर गहरी खाई में जा गिरा।


हादसे की जानकारी होने पर आसपास के गांवों के लोग मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना देने के साथ ही राहत बचाव कार्य शुरू कर दिया। क्षेत्रवासियों तथा क्षेत्रीय विधायक के प्रतिनिधि हीरा सिंह चिराल के अनुसार स्थानीय लोगों ने पहाड़ी ढलान पर 9 लोगों के शव चट्टानों में बिखरे देखे, जबकि वाहन करीब 500 मीटर नीचे खाई में गिरा था।


इस बीच पुलिस, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ आदि की रेस्क्यू टीम भी बचाव कार्य में जुट गई। इसके बाद शवों को खाई से सड़क तक लाने का कार्य शुरू हुआ। इस दौरान 10वां शव भी बरामद कर लिया गया।


पुलिस प्रशासन के अनुसार मृतकों में शामा, कपकोट क्षेत्र निवासी किशन सिंह उम्र 64 वर्ष पुत्र खुशाल सिंह, भूतपूर्व सैनिक धर्म सिंह उम्र 69 पुत्र पद्म सिंह और कुंदन सिंह उम्र 58 पुत्र टीम सिंह, सेना में कार्यरत शंकर सिंह उम्र 42 पुत्र प्रताप सिंह, निशा 24 वर्ष पत्नी उमेश सिंह, उमेश सिंह 28 वर्ष पुत्र कुन्दन सिंह, सुंदर सिह 37 वर्ष पुत्र खुशाल सिंह शामिल हैं। मृतकों में इनके अलावा भनार, कपकोट निवासी चालक महेश सिंह उम्र 35 पुत्र मोहन सिंह, खुशाल सिंह 64 वर्ष पुत्र उच्छप सिंह तथा दान सिंह 52 वर्ष पुत्र मंगल सिंह शामिल हैं। राहत बचाव कार्य के दौरान डीएम रीना जोशी के साथ एसडीएम अनिल शुक्ला, सीएमओ एच एस ह्यांकी आदि भी मौजूद रहे। प्रशासन के अनुसार फिलहाल वाहन में 10 लोगों के सवार होने की जानकारी सामने आई है। इसकी और पुष्टि की जा रही है तथा खोजबीन जारी है। शवों के पोस्टमार्टम की व्यवस्था होकरा में ही घटना स्थल पर की गई है।

Joinsub_watsapp