प्राधिकरण में शामिल करने के खिलाफ पिथौरागढ़ में लोगों का फूटा गुस्सा,किया प्रदर्शन

उत्तरा न्यूज डेस्क
3 Min Read

पिथौरागढ़। नगर पिथौरागढ़ से लगे 24 गांवों को जिला विकास प्राधिकरण में शामिल किया गया है। अब इन गांवों के ग्रामीणों को भवन निर्माण कराने से पहले प्लान पास कराना अनिवार्य होगा। शासन के इस निर्णय के विरोध में शनिवार को जन संघर्ष सेना के सदस्य ऋषेन्द्र महर के नेतृत्व में लोगों ने जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया और उसके बाद मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा गया।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार प्राधिकरण के नाम पर जनता के हक-हकूकों पर डाका डालने का काम कर रही है। प्राधिकरण के नियम काफी जटिल हैं, और ये सरकार के राजस्व वसूली का सबसे बड़ा जरिया बन गये हैं। लोगों ने कहा कि प्राधिकरण के नियम पर्वतीय क्षेत्रों के लिए पलायन का बड़ा कारण बन जाएगा। पर्वतीय क्षेत्र की विषम भौगोलिक परिस्थिति को देखते हुए यहां जिला विकास प्राधिकरण के नियम लागू करना गलत है। जिला मुख्यालय में 24 गांवों को जिला विकास प्राधिकरण के दायरे से बाहर करने की मांग ज्ञापन में कहा गया है कि प्राधिकरण के दायरे में शामिल किए गए कई गांवों तक सड़क नहीं पहुंची है और कुछ गांवों की सड़क से दूरी करीब 200 से 500 मीटर है। जिस कारण ग्रामीणों को भवन निर्माण के लिए माल ढुलान कराना पड़ता है, जिसमें उनकी लाखों की धनराशि खर्च हो जाती है। ऐसे मेंू विकास प्राधिकरण के नियम लागू होने से ग्रामीणों के लिए अपने सपनों का आशियाना बनाना सपना ही रह जाएगा। वहीं ग्राम प्रधान संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष महिपाल वल्दिया और ग्राम प्रधान चैसर किशन धामी ने कहा की पर्वतीय क्षेत्रों में जिला विकास प्राधिकरण के नियम लागू न किए जाएं, इससे केवल जनता परेशान होगी।

प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी दी कि यदि सरकार ने शीघ्र अपना यह फरमान वापस नहीं लिया तो 24 गांवों के ग्रामीण एकजुट होकर सड़कों पर उतरने को बाध्य होंगे और आगामी लोकसभा व निकाय चुनाव में सरकार को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।सभी अनेक ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने कहा की जल्द जन संघर्ष सेना का विस्तार कर गांव गांव जाया जाएगा और आम जनता को इस मुद्दे से जोड़कर एक महाआंदोलन किया जाएगा।इस अवसर पर ग्राम प्रधान दाड़ीमखोला दीपक तड़ागी, ग्राम प्रधान हुडेती रजत उप्रेती, ग्राम प्रधान चैसर किशन धामी, क्षेत्र पंचायत सदस्य अक्षय कुमार, ऋषभ कल्पासी, आनंद धामी, राजेश शर्मा, निखिल ऐरी,महेंद्र प्रसाद,दीवान सौन, विजेंद्र कुंवर, पारस सिंह, मनोज कुमार,लक्ष्मण प्रसाद आदि ग्रामीण उपस्थित थे।

Joinsub_watsapp